आबकारी निरोधक दल के प्रतीक चिन्ह् व ध्वज संबंधी आदेश जारी

आबकारी निरोधक दल के प्रतीक चिन्ह् व ध्वज संबंधी आदेश जारी

किसी भी दल का ध्येय वाक्य, प्रतीक चिन्ह् एवं ध्वज का होना आवश्यक है
 
escise department

उदयपुर, 30 सितम्बर। आबकारी आयुक्त राजस्थान ओम कसेरा द्वारा आबकारी निरोधक दल के लिए प्रतीक चिन्ह्, ध्येय वाक्य एवं ध्वज के लिए आदेश जारी किया गया है।

आबकारी आयुक्त के अनुसार आबकारी निरोधक दल का गठन राज्य सरकार की अधिसूचना 29 जनवरी 1957 के तहत राजस्थान सशस्त्र दल के अनुरूप किया गया था। आबकारी निरोधक दल द्वारा विभागीय कार्याें, राजस्व वसूली एवं निरोधात्मक गतिविधियों के सम्पादन किया जा रहा है। इसी क्रम में किसी भी दल का ध्येय वाक्य, प्रतीक चिन्ह् एवं ध्वज का होना आवश्यक है। 

इस प्रकार विभागीय पहचान एवं आबकारी निरोधक दल के अधिकारी, कर्मचारियों के मनोबल में वृद्धि के लिए आबकारी दल का ध्येय वाक्य ‘‘राजस्व अर्जन एवं अनुशासन’’ रखा गया है। प्रतीक चिन्ह् पर अशोक स्तम्भ, उसके नीचे ‘‘सत्यमेव जयते’’ एवं ध्येय वाक्य ‘‘राजस्व अर्जन एवं अनुशासन’’ लिखा रहेगा। प्रतीक चिन्ह् को वर्दी पर बायीं बाजू पर धारण किया जाएगा।

आबकारी आयुक्त के अनुसार आबकारी निरोधक दल का ध्वज दो रंग का होगा जिसमें उपरी भाग पर गहरे पीले रंग एवं नीचे का भाग गहरे नीले रंग का होगा। ध्वज के मध्य में प्रतीक चिन्ह् मय ध्येय वाक्य रहेगा। इस प्रकार विभागीय आयोजनों, राष्ट्रीय पर्व पर आबकारी निरोधक दल का ध्वज भी फहराया जाएगा एवं सभी वर्दीधारी अधिकारी व कर्मचारियों द्वारा गणवेश पर प्रतीक चिन्ह् धारण किया जाएगा।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal