उदयपुर व प्रतापगढ़ में 2 दिन में 414 जगह पकड़ी बिजली चोरी

उदयपुर व प्रतापगढ़ में 2 दिन में 414 जगह पकड़ी बिजली चोरी

अजमेर डिस्कॉम ने 1.36 करोड रूपये लगाया जुर्माना, जारी रहेगा अभियान

 
electricity theft

उदयपुर 14 जुलाई 2023। अजमेर विद्युत वितरण निगम ने डिस्कॉम के सभी 11 जिलों में बिजली चोरों के खिलाफ जंग छेड़ दी है। निगम द्वारा चलाए जा रहे बिजली चोरों के विरुद्ध सतर्कता अभियान के तहत इस बार डिस्कॉम के टीम ने 12 व 13 जुलाई को छापा मारकर 414 जगहों पर बिजली चोरी पकड़ी और 1.36 करोड रूपये जुर्माना लगाया। 

निगम के प्रबन्ध निदेशक एन.एस. निर्वाण ने बताया कि डिस्कॉम ने पिछले वर्ष की तरह इस बार फिर बिजली चोरों को सबक सिखाने और राजकोष को घाटा पहुंचाने से रोकने के लिए इस वित्तीय वर्ष की शुरुआत से ही बिजली चोरों के विरुद्ध अभियान चला रखा है। डिस्कॉम ने इस साल 10 प्रतिशत से कम बिजली छीजत का लक्ष्य रखा है। इसके लिए जारी अभियान के तहत 12 व 13 जुलाई को निगम की सतर्कता विंग के इंजीनियरों ने 11 जिलों में 414 विद्युत चोरियाँ पकड़ी और बिजली चोरों पर 1.36 करोड रूपये का जुर्माना लगाया। 

निर्वाण ने बताया कि डिस्कॉम की टीम में सबसे अधिक उदयपुर जिले के अभियंताओं ने 83 विद्युत चोरी के मामले पकडते हुए 44.98 लाख रूपये जुर्माना लगाया। इसके अतिरिक्त अजमेर में 23, भीलवाड़ा में 53, सीकर में 63, उदयपुर में 83, चित्तौड़गढ़ में 37, राजसमंद में 15, बांसवाड़ा में 15, नागौर में 55 व झुंझनू में 70 मामलें विद्युत चोरी के बनाए गए। इन सभी पर कुल 1.36 करोड़ रुपयों का जुर्माना लगाया गया है।

सतर्कता अभियान में पकड़ी गई चोरी की विभिन्न वारदातें व जुर्माना

प्रतापगढ़ जेईएन (एमएण्डपी) श्रीमती प्रियंका भाटी द्वारा एमआईपी उपभोक्ता जितेंद्र पाटीदार के इंस्टालेशन की जांच के दौरान उन्हें मीटर बॉक्स की सील टूटी हुई मिली। मीटर के पीछे कट पाया गया और आर एंड वाई फेज तथा सीटी एंड पीटी तारों को जानबूझकर काट दिया जाना पाया गया। जिससे मीटर आर एंड वाई चरण की ऊर्जा रिकॉर्ड नहीं कर सका। उन्होंने एक्सईएन प्रतापगढ़ शेखर चौधरी को इस मामले की जानकारी दी। उपभोक्ता पर 12,89,600 रुपयों का जुर्माना लगाया गया। 

उदयपुर शहर के गुलाब बाग के निकट जल- दर्शन बाजार में स्थित होटल ब्लूऑरचिड  के कनेक्शन की जांच श्रीमति निशा मेनारिया, सहायक अभियंता (मीटर टेस्टिंग) व मय टीम के द्वारा की गयी। जांच में मीटर में एक फेस पर करंट नही पाया गया। जिस पर विद्युत चोरी का अंदेशा होने पर मीटर के कनेक्शन की गहनता से जांच की गयी। जांच में  पाया गया कि उपभोक्ता द्वारा मीटर की मुख्य सर्विस लाइन में कट लगाकर एक काली केबल को सीधे होटल के अंदर लगे मैन स्वीच पैनल के लोड पर जोडकर अवैध रूप से विद्युत का उपभोग किया जा रहा था। इस तरह विद्युत चोरी कर उपभोक्ता द्वारा मीटर को वास्तविक पठन से वंचित कर रखा था। उपभोक्ता की इस चोरी के कृत्य पर अधीक्षण अभियंता भवानी शंकर शर्मा, अधीशाषी अभियंता (मीटर) सोमेन माथुर व गुलाब पावर हाउस-प्रथम के कनिष्ठ अभियंता व सर्तकता अधिकारी संदीप कोठारी को सूचित कर बुलाया गया। विद्युत चोरी प्रकरण में सर्तकता शाखा द्वारा जांच कर वीसीआर बनाकर लगभग चौदह लाख राजस्व निर्धारण किया गया। मौके पर ही कनिष्ट अभियंता (पावर हाउस -प्रथम) उदयपुर व मय टीम द्वारा होटल का विधुत संबंध विच्छेद कर दिया गया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal