45 साल बाद भीण्डर के गोविंद को मिली राहत


45 साल बाद भीण्डर के गोविंद को मिली राहत

शिविर में खुशियों की बारिश, छंटे आशंकाओं के बादल

 
bhinder
UT WhatsApp Channel Join Now
प्रशासन गांवों के संग अभियान...

उदयपुर 19 नवंबर 2021। जिले में शुक्रवार को दिनभर रिमझिम बारिश के बीच प्रशासन गांव-शहरों के संग शिविरों में खुशियों की बरसात होती रही। आसमां में काले बादल छाए थे, लेकिन जब बरसों से अटके काम पूरे हुए, तो भविष्य को लेकर कई परिवारों पर मंडराते आशंकाओं के बादल छंट गए। शुक्रवार को ऐसा ही एक नजारा भींडर के गिरवर पोल में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में आयोजित शिविर के दौरान देखने को मिला।

पूरा हुआ 45 साल का इंतजार

भींडर के गोविंद सिंह सिसोदिया पिता भेरू सिंह सिसोदिया 45 साल से अपनी पुश्तैनी मकान में रह रहे थे। इस मकान से इस परिवार की तमाम यादें जुड़ी हैं। बस, सरकारी दस्तावेज में इस मकान के साथ उनका नाम जुड़ना बाकी था। गोविंद सिंह ने बताया कि मकान सिर्फ ईंट-पत्थर से नहीं बनता। इस मकान के साथ उनकी भावनाएं भी जुड़ी थी। लेकिन पट्टा नहीं होने से उन्हें हमेशा भविष्य को लेकर चिंता रहती थी। शुक्रवार को भींडर नगरपालिका की अध्यक्ष निर्मला भोजावत, अधिशासी अधिकारी विजेश मंत्री और स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने गोविंद सिंह को पट्टा सौंपा, तो खुशी से उनकी आंखें भर आईं।

पट्टा मिल गया, अब लोन भी मिल जाएगा

गोविंद सिंह ने बताया कि पट्टा मिलने से भविष्य में कभी आवश्यकता पड़ने पर उसे बैंक से लोन भी मिल जाएगा। इससे मेरी भविष्य की बहुत सारी चिंताएं समाप्त हो गई। भावुक गोविंद सिंह ने बताया कि मेरे लिय यह एक कागज भर नहीं है, इसकी अहमियत मैं ही जानता हूं। 

गोविंद सिंह ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आभार जताते हुए कहा कि अभियान के तहत प्री-कैम्प में अधिकारियों ने जरूरी दस्तावेज की जानकारी दी और आवेदन करते ही बिना नगरपालिका के चक्कर काटे आसानी से पट्टा मिल गया। गोविंद सिंह ने स्टेट ग्रांट एक्ट के तहत आवेदन किया था।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal