शस्त्रागार के रूप में ख्यात मायरा की गुफा का रेनोवेशन अगस्त तक पूरा होगा

शस्त्रागार के रूप में ख्यात मायरा की गुफा का रेनोवेशन अगस्त तक पूरा होगा

3.7 किलोमीटर सड़क का काम पूरा, आसानी से पहुँच सकेंगे पर्यटक

 
ff

महाराणा प्रताप के शस्त्रागार के रूप में प्रसिद्ध मायरा की गुफा में रेनोवेशन अंतिम चरण में है। गोगुंदा स्थित इस ऐतिहासिक स्थल तक पर्यटकों के पहुँचाने के लिए नई सड़क का निर्माण किया जा रहा है। मरम्मत, सुविधा विस्तार और सौंदर्यीकरण से जुड़े बाकी सभी काम अगस्त तक पूरा करने का लक्ष्य है।

पर्यटक वीर महाराणा प्रताप के संघर्ष की कहानी को देखेंगे

पर्यटक विभाग की उप-निदेशक शिखा सक्सेना ने बताया की सड़क बनने से पर्यटन अब यहाँ आसानी से पहुँच सकेंगे। पहले महाराणा प्रताप से जुड़े इस ऐतिहासिक स्थल तक पहुँचने का रास्ता नही था। उन्होंने बताया की परिसर में पर्यटक वीर महाराणा प्रताप के संघर्ष की कहानी को देखेंगे।

सरकार ने 540.44 लाख का बजट जारी किया था

कलेक्टर ताराचंद मीणा ने मोनसून को देखते हुए वन विभाग को प्लांटेशन के आदेश भी दिए है। बता दे, मायरा की गुफा के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने साल 2021-22 के बजट में घोषणा की थी। इसमें जीर्णोद्धार और सौंदर्यीकरण के काम होने है। इसके लिए सरकार ने 540.44 लाख का बजट जारी किया था ।

प्लांटेशन के लिए 37.31 लाख बजट दिया गया

गुफा तक बनी सड़क के इर्द-गिर्द प्लांटेशन करवाकर हरियाली बढाई जाएगी। सड़क 3.7 किमी लंबी है, जिस पर लाखों रूपए खर्च हुए है। यह काम सर्वाजनिक निर्माण विभाग ने करवाया है। साथ ही पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग को 154.13 लाख का बजट दिया गया है। विभाग गुफा में रेनोवेशन करवा रहा है। वन विभाग को गुफा क्षेत्र पर प्लांटेशन के लिए 37.31 लाख बजट दिया गया। इसमें पौधारोपण के साथ चारो तरफ बाउंड्रीवाल बनाने का काम जोरो पर है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal