रुट मार्च के दौरान सड़क पर चल रहे ठेला व्यवसाय, रेस्टोरेंट, दुकानदारों से मुलाकात कर जानकारी जुटाई गई

रुट मार्च के दौरान सड़क पर चल रहे ठेला व्यवसाय, रेस्टोरेंट, दुकानदारों से मुलाकात कर जानकारी जुटाई गई

शनिवार शाम को किया गया था रुट मार्च 

 
root march

उदयपुर। पुलिस महानिरीक्षक राजस्थान द्वारा जारी किए गए विशेष आदेशों की पालना करते हुए समस्त प्रदेश में पुलिस विभाग द्वारा अलग-अलग शहरों में शाम 7:00 बजे से लेकर रात को 11:00 बजे तक चलने वाले व्यवसाय के बारे में जानकारी जुटाने और सड़क पर चल रही संदिग्ध गतिविधियों पर अंकुश लगाने को लेकर शनिवार समस्त प्रदेश में सभी पुलिस अधीक्षक द्वारा अपने-अपने जिलों के अलग-अलग क्षेत्रों में गश्त की जाकर सड़क पर चल रहे ठेला व्यवसाय, रेस्टोरेंट और अन्य दुकानदारों से मुलाकात कर उनके कामों के बारे में जानकारी जुटाई गई और आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

इसी कड़ी में उदयपुर एसपी भुवन भूषण द्वारा शनिवार शाम को शहर के सुखाडिया सर्कल से इस अभियान की शुरुआत की गई जहां सुखाडिया सर्कल पर बनी अलग-अलग दुकानों पर जाकर दुकानदारों और सड़क पर गुब्बारा बेचने वाले बच्चों से बातचीत की गई और उनके द्वारा किए जा रहे कामों के बारे में उनसे जानकारी जुटाई गई।

एसपी अपनी टीम के साथ दिल्ली गेट पर पहुंचे जहां से उन्होंने पैदल रूट मार्च करते हुए नाडा खड़ा सब्जी मंडी और धानमंडी थाना क्षेत्र के अलग-अलग इलाकों में गश्त की गई।

एसपी उदयपुर भुवन भूषण ने बताया कि इस अभियान के तहत पुलिस की कुछ प्राथमिकता है जिसमें पहली प्राथमिकता शहर में नगर निगम द्वारा बनाई गई पार्किंग की लाइनों में गाड़ियां व्यवस्थित रूप से खड़ी है या नहीं इसको सुनिश्चित करना, दूसरा सड़कों पर अपना व्यवसाय चलाने वाले सभी लोगों को थोड़ा नियंत्रित करना, एसपी ने कहा कि पुलिस का मकसद यह कतई नहीं है कि गरीब लोगों को परेशान किया जाए इसी को ध्यान में रखते हुए आज अभियान के पहले दिन सभी से समझाइश की गई है और पुनः जरूरी दिशा निर्देश दिए गए हैं। 

उन्होंने कहा कि यह अभियान आगे भी लगातार जारी रहेगा और आने वाले समय में एडिशनल एसपी और डिप्टी एसपी लेवल के अधिकारी इन क्षेत्रों में गश्त करेंगे और आज दिए गए दिशा निर्देशों को पालना को निश्चित किया जाएगा।

एसपी ने कहा कि आने वाले वक्त में इसके लिए एक एक्शन प्लान बनाया जाएगा और सभी व्यवस्थाओं को सुनिश्चित किया जाएगा साथ ही सड़कों पर गुब्बारे बेच रहे या भीख मांग रहे बच्चों के बारे में भी जानकारी जुटाई जाएगी कि क्या उन्हें किसी संगठन या गिरोह द्वारा यह कार्य उनकी मर्जी के विरूद्ध कराया जा रहा है या किसी और कारणों के चलते उन्हें इस कार्य को करना पड़ रहा है क्या उन उनके सभी अधिकार उन्हें मिल रहे हैं या नहीं, क्या वह स्कूल जा रहे हैं क्या वह पढ़ाई कर रहे हैं या नहीं।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal