उदयपुर में आज से पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक अवकाश मिलने की सौगात

उदयपुर में आज से पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक अवकाश मिलने की सौगात

लम्बे अरसे से पुलिस विभाग में कांस्टेबल और समकक्ष पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक देने की मांग उठ रही है
 
rajasthan police

उदयपुर पुलिस में आज से पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक अवकाश मिलने की सौगात मिलने जा रही हे। ऐसे में पुलिस पहले से और भी अधिक तनाव रहित बेहतर पुलिसिंग कर सकेगी।

पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा ने बताया कि पिछले कई समय से मांग थी कि पुलिस कर्मियों को साप्ताहिक अवकाश दिया जाए। ऐसे में निर्णय लिया गया कि सभी पुलिस कर्मियों को अल्टरनेट साप्ताहिक अवकाश दिया जायेगा साथ कुछ शर्ते भी रखी गई कि अवकाश के समय कोई मुख्यालय नही छोड़ेगा, इमरजेंसी हालातों में ड्यूटी पर वापस लौटना होगा।

एसपी विकास शर्मा का कहना हे इस साप्ताहिक अवकाश मिलने के बाद पुलिस कर्मियों को तनाव में काफी हद तक राहत मिल सकेगी। साथ ही ओर भी बेहतर पुलिसिंग हो सकेगी। शर्मा ने बताया कि लंबे अंतराल के बाद जवानों को मकर संक्रांति से साप्ताहिक अवकाश की सौगात मिलेगी। यह व्यवस्था शुरू होने से पुलिसकर्मियों और उनके परिजनों में हर्ष है।

शर्मा ने कहा कि लगातार काम का बोझ और इससे उत्पन्न होने वाले तनाव को कम करने के उद्देश्य से पुलिसकर्मियों को यह साप्ताहिक अवकाश देने का निर्णय करते हुए डीजीपी ने गत दिनों आदेश जारी किया था।

पायलट प्रोजेक्ट के तहत अजमेर जिले में गेगल थाना का चयन किया गया था, जहां आशानुरूप नतीजे आने के बाद इसे पूरे प्रदेश में लागू किया जा रहा है।

पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक अवकाश देने की व्यवस्था के तहत थानाधिकारी उनके थाने में उपलब्ध नफरी के अनुपात में कांस्टेबल को 24 घंटे के लिए साप्ताहिक अवकाश मंजूर करेंगे। इस दौरान आने वाली समस्याओं, उनके समाधान के लिए सुझाव और प्रस्ताव पुलिस अधीक्षक कार्यालय को भिजवाएंगे। अवकाश पीएल और सीएल के साथ नहीं दिया जा सकेगा।

लम्बे अरसे से पुलिस विभाग में कांस्टेबल और समकक्ष पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक देने की मांग उठ रही है। लगातार काम के बोझ तले पुलिसकर्मी परिवार तथा समाज को समय नहीं दे पाते है। पुलिस थानों पर पदस्थापित कार्मिकों के लिए कर्तव्य निर्वहन कठिन होता है एवं उन्हें विपरीत परिस्थितियों में करना पड़ता है। इस कारण कार्मिकों को स्वास्थ्य संबंधी एवं पारिवारिक सामाजिक चुनौतियों का सामना करना पड़ता है।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal

From around the web