ज़िन्दगी का एक और साल कम हो चला है...बीते हुए लम्हों को याद बनाता चला है

ज़िन्दगी का एक और साल कम हो चला है...बीते हुए लम्हों को याद बनाता चला है

 
ज़िन्दगी का एक और साल कम हो चला है...बीते हुए लम्हों को याद बनाता चला है
by: Yasmeen

अलविदा 2020
अलविदा कहे जाते हुए इस साल को,
और स्वागत करे आने वाले साल को

ज़िंदगी का एक और साल कम हो चला,
और बीते हुए लम्हों को याद बनाता चला

मन इस तरह उलझन में उलझा रहा,
गुज़रे हुए वक्त की यादों में डूबा रहा

जाते हुए ये साल ज़िंदगी जीना सीखा गया,
हर हाल में शुक्र और खुश रहना सीखा गया

थोड़ा सा देकर बहुत कुछ साथ ले गया।
अपनो को पराया, गैरों को अपना कर गया

कुछ ख्वाहिशें दिल में ही दबी रही,
कुछ बिन मांगे ही पूरी हो गई

कुछ को मैंने खुशियाँ बाँटी और
बहुत सो के आँसूओं की वजह बनी

अपने ही लोग अनजान बन कर रहे,
और कुछ अनजाने अपने से हो गए

कुछ चेहरे हमेशा के लिए खो गए,
कुछ साथ रहकर भी खोए-खोए रहे

कुछ हमें याद करते रहे और
कुछ को हम याद करते रह गए

आने वाला ये साल क्या साथ लेकर आएगा,
कब, कौन से मोड़ पर मेरा साथ छूट जाएगा

बस ख्वाहिश ये रखते है हम......
आप हमें याद करते रहना और हम आपको
यूहीं इस ज़िंदगी का सफर तय हो जाएगा।।
नये साल 2021 की मुबारकबाद।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal