Hindustan Zinc ranked 3rd in the Global Sustainability Index in the Mining and Metals Sector

हिन्दुस्तान जिंक को माइनिंग और मेटल सेक्टर में विश्व स्तरीय सस्टेनेबिलिटी इंडेक्स में तीसरा स्थान

हिन्दुस्तान जिंक को माइनिंग और मेटल सेक्टर में विश्व स्तरीय सस्टेनेबिलिटी इंडेक्स में तीसरा स्थान

पर्यावरण, धातु एवं खनन क्षेत्र में एशिया-पेसिफिक में चार वर्षो से प्रथम स्थान पर कायम

 
HZL

भारत की एकमात्र एवं विश्व की अग्रणी जस्ता-सीसा एवं चांदी उत्पादक कंपनी हिन्दुस्तान जिंक को धातु एवं खनन क्षेत्र में सस्टेनेबिलिटी के लिए विश्व स्तरीय एस एण्ड पी ग्लोबल कार्पोरेट सस्टेनेबिलिटी एसेसमेंट की सूची में तीसरा स्थान मिला है। कंपनी लगातार 4 वर्षो से एशिया-पेसिफिक में पर्यावरण और धातु एवं खनन क्षेत्र में प्रथम रही है। यह रैंकिंग सस्टेनेबिलिटी और जिम्मेदार खनन के माध्यम से मूल्य आधारित और जीवन में सुधार हेतु हिंदुस्तान जिंक की निरंतर प्रगति का प्रमाण है।

इस उपलब्धि पर हिंदुस्तान जिंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरुण मिश्रा ने कहा, “हमें गर्व है कि सस्टेनेबल भविष्य के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को वैश्विक मान्यता मिली है। हम धातु और खनन क्षेत्र में एस एण्डपी ग्लोबल कार्पोरेट सस्टेनेबिलिटी एसेसमेन्ट में वैश्विक स्तर अपनाए गए सस्टेनेबिलिटी प्रयासों के माध्यम से 5वें से तीसरे स्थान पर आ गए हैं। ये प्रयास संगठनात्मक सरंचना और हमारे संचालन के आसपास के समुदायों को शामिल करते हैं। हम दृढ़ संकल्पित हैं कि सस्टेनेबल व्यवसाय विधियों का उपयोग हमारे हितधारकों, समुदायों और पर्यावरण के लिए दीर्घकालिक मूल्य बनाने का आधार है। 
सस्टेनेबल हेतु हमारी प्रतिबद्धता मजबूत होती जा रही है, क्योंकि हम नई नवीन तकनीकों में निवेश करते हैं और उत्सर्जन को कम करने के लिए परिचालन दक्षता में वृद्धि करते हैं जो हमें 2050 तक नेट जीरो कार्बन महत्वाकांक्षा को प्राप्त करने में सहयोग देगा।

हिंदुस्तान जिंक ने 18 नवंबर को कॉरपोरेट सस्टेनेबिलिटी असेसमेंट के दौरान 80 का उल्लेखनीय स्कोर हासिल किया, जो कि गत वर्ष 77 था। सीएसए स्कोर कंपनियों को अन्य कंपनियों के मुकाबले उनके पर्यावरण, सामाजिक और शासन (ईएसजी) के प्रदर्शन को बेंचमार्क करने और स्थिरता के उद्देश्यों को पूरा करने में उनकी प्रगति का मूल्यांकन करते हैं।

वेदांता समूह की कंपनी हिंदुस्तान जिंक, जिंक, लेड और सिल्वर की भारत की सबसे बड़ी और एकमात्र एकीकृत उत्पादक, अपने सस्टेनेबिलिटी लक्ष्यों 2025 के हिस्से के रूप में कार्बन फुटप्रिंट में कमी, सुरक्षित संचालन और प्राकृतिक संसाधनों के कम से कम उपयोग के लिए प्रतिबद्ध है। कंपनी ने सस्टेनेबल विकास के सिद्धांत के तहत् हरित संचालन हेतु आगामी पांच वर्षों में 1 बिलियन से अधिक के निवेश हेतु प्रतिबद्धता दर्शायी है।

हिन्दुस्तान जिंक को अपने सर्वोत्तम प्रयासों के माध्यम से उत्कृष्टता प्रदान करने पर सीएपी 2.0, एस एण्ड पी, ग्लोबल प्लैट्स अवार्ड्स, ग्रीनको सर्टिफिकेशन, सीआईआई नेशनल 5 एस एक्सीलेंस अवार्ड, भामाशाह अवार्ड सहित अन्य पुरस्कारों से सम्मानित किया है। एस एण्ड पी ईएसजी रैंकिंग में 27 कंपनियां ईएसजी स्कोर हेतु प्रतीक्षा सूची में है। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on  GoogleNews | WhatsApp | Telegram | Signal

From around the web