हिंदुस्तान ज़िंक का इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के साथ एमओयू

हिंदुस्तान ज़िंक का इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के साथ एमओयू

हिन्दुस्तान जिंक के सीएसआर लाभार्थियों को वित्तीय सेवाएं प्रदान करने के लिए किया गया एमओयू

 
HZL

उदयपुर, 11 जनवरी 2024। ग्रामीण राजस्थान के वित्तीय परिदृश्य को मजबूत करने के उद्धेश्य से वेदांता समूह की कंपनी हिन्दुस्तान जिंक और इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) ने वित्तीय सेवाएं प्रदान करने के लिये एक एमओयू पर हस्ताक्षर किये। यह सहयोग हिंदुस्तान जिंक के परिचालन क्षेत्रों के आसपास सामुदायिक लाभार्थियों के जीवन पर स्थायी प्रभाव सुनिश्चित करेगा। एमओयू पर आईपीपीबी की ओर से मुख्य बिक्री एवं विपणन अधिकारी गुरशरण राय बंसल एवं हिन्दुस्तान जिं़क के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरुण मिश्रा हस्ताक्षर किये।

इस अवसर पर ” गुरशरण राय बंसल ने कहा कि “अपने लाभार्थियों को वित्तीय समावेशन सेवाएं प्रदान करने के लिए हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड के साथ इस एमओयू  से आईपीपीबी को भारत में प्रमुख कॉर्पोरेट्स द्वारा कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व (सीएसआर) गतिविधियों से लाभान्वित लाभार्थियों की सेवा में सहायात मिलेगी। यह गठबंधन हमारे लिए इस देश में वंचित लोगों तक डोरस्टेप बैंकिंग सेवा वितरण के अपने दायरे का विस्तार करने के लिए महत्वपूर्ण मील का पत्थर है।

इस अवसर पर, हिंदुस्तान जिंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरुण मिश्रा ने कहा, “इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के साथ यह परिवर्तनकारी गठबंधन समुदायों को सशक्त बनाने के प्रति हमारे समर्पण को दर्शाता है। आईपीपीबी के साथ इस एमओयू के माध्यम से हमारा लक्ष्य वित्तीय समावेशन को पुनः परिभाषित करना और हमारे समुदाय के लाभार्थियों को उन्नत वित्तीय सेवाओं तक पहुंच के साथ सशक्त बनाना है। यह सहयोग जीवन पर सार्थक प्रभाव डालने, आर्थिक सशक्तिरण को बढ़ावा देने और जिन समुदायों की हम सेवा करते हैं उनमें सकारात्मक बदलाव लाने की हमारी प्रतिबद्धता का उदाहरण देता है।

आईपीपीबी द्वारा प्रदान की जाने वाली प्रमुख सेवाएं वित्तीय समावेशन सुनिश्चित करेंगी और बैंक खाते खोलने, पेंशन उत्पादों तक पहुंच, दीर्घकालिक बचत और निवेश योजनाओं के लिए सहायता सुनिश्चित करेंगी। आईपीपीबी सेवाओं के लिए व्यक्तिगत व्यवसाय प्रतिनिधि बनने के लिए एसएचजी महिलाओं, किसानों और युवाओं को शामिल करने वाले 3.5 लाख से अधिक लाभार्थियों को सहायता प्रदान करने और सशक्त बनाने में सहायता करेगा।

यह आईपीपीबी बैंकिंग चैनलों के माध्यम से सरकारी सामाजिक कल्याण योजनाओं को अतिरिक्त रूप से बढ़ावा देगा और लाभार्थियों को आईपीपीबी के ऋण भागीदारों के माध्यम से आय-सृजन ऋण प्राप्त करने में सहायता करेगा।

इस सहयोग के साथ, डाक विभाग के तहत एक सार्वजनिक लिमिटेड कंपनी आईपीपीबी, सर्वोत्तम श्रेणी की डिजिटल बैंकिंग सेवाओं के साथ अंतिम स्तर तक पहुंचने की अपनी प्रतिबद्धता को मजबूत करती है। यह साझेदारी हिंदुस्तान जिंक की अपनी सामाजिक जिम्मेदारी के प्रति अटूट प्रतिबद्धता को रेखांकित करती है, जिन क्षेत्रों में यह संचालित होती है, उनके सतत विकास में योगदान देती है और सकारात्मक बदलाव लाने में अग्रणी के रूप में अपनी प्रतिष्ठा को मजबूत करती है।

एमओयू हस्ताक्षर के अवसर पर आईपीपीबी के एजीएम मार्केटिंग विश्वनाथ दिव्य एवं हिन्दुस्तान जिंक की हेड सीएसआर अनुपम निधि सहित अन्य गणमान्य उपस्थित थे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal