हिन्दुस्तान जिंक लगातार दूसरी बार 'कंपनी विद ग्रेट मैनेजर्स' अवार्ड से पुरस्कृत


हिन्दुस्तान जिंक लगातार दूसरी बार 'कंपनी विद ग्रेट मैनेजर्स' अवार्ड से पुरस्कृत

सुनीपा रॉय, सी चन्द्रू को ग्रेट मैनेजर्स का अवार्ड

 
HZL
UT WhatsApp Channel Join Now
कर्मचारियों के सशक्तीकरण और स्वस्थ कार्यस्थल की हिन्दुस्तान जिंक की प्रतिबद्धता दर्शाते हैं अवार्ड

उदयपुर। दुनिया में सीसा-जस्ता और चांदी उत्पादन में अग्रणी हिन्दुस्तान जिंक को लगातार दूसरी बात कंपनी विद ग्रेट मैनेजर का अवार्ड मिला है। पीपल बिजनेस और इकोनोमिक टाइम्स के साझे में शुरू की गई पहल के तहत ग्रेट मैनेजर्स वाले संगठनों को तलाशने, उनकी पहचान करने और उन्हें पुरस्कृत किया जाता है। 

यह कार्यक्रम भागीदार संगठनों को उद्योगों में अपनी और अपने मैनेजरों की तुलना करने और बेंचमार्क बनाने में सक्षम करता है। इसके अलावा हिन्दुस्तान जिंक के मुख्य कामर्शियल ऑफिसर सुनीपा रॉय और स्मेल्टर्स के मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) सी चन्द्रू को ग्रेट मैनेजर अवार्ड प्रदान किया गया।

टीम की उपलब्धियों पर हिन्दुस्तान जिंक के सीईओ अरूण मिश्रा ने कहा कि इकोनोमिक टाइम्स और पीपल बिजनेस द्वारा ‘कंपनी विद ग्रेट मैनेजर्स‘ का अवार्ड पाकर हम गौरवान्वित हैं। मैं सुनीपा रॉय और सी. चन्द्रू को हिन्दुस्तान जिंक में उनके उल्लेखनीय उपलब्धि के लिए हार्दिक बधाई देता हूं। हमें लगातार दूसरी बार सकारात्मक वातावरण बनाने का बढ़ावा देने वाली कंपनी के रूप में चुने जाने पर अत्यंत प्रसन्नता है। यह हमारे सभी कार्यों में पीपल फर्स्ट दृष्टिकोण का उदाहरण है। हमारे लोग कंपनी की उन्नति और विकास में योगदान देने के लिए श्रेष्ठ प्रयास करते हैं और हम अपने सभी कर्मचारियों को निर्णय में शामिल कर उन्हें अपने विचार व्यक्त करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।"

हिन्दुस्तान जिंक ने अपने कार्य संचालन और प्रक्रिया में एक अलग ही कार्य संस्कृति अपनाई है। हाल ही में कंपनी ने उच्च प्रभाव वाला शिक्षण कार्यक्रम प्रबंधकीय प्रभावशीलता (मैनेजरियल इफेक्टिवनेस) शुरू किया है जिसमें व्यक्तिगत प्रतिक्रिया के साथ हर तरह से मूल्यांकन करना शामिल है। इसका उद्देश्य नए प्रबंधकों को व्यक्तिगत योगदानकर्ता से महान प्रबंधक (ग्रेट मैनेजर) बनने में सहायता करता है। हिन्दुस्तान जिंक का मानना है कि इसकी सबसे मूल्यवान संपत्ति इसके कर्मचारी और लोग हैं जो एक उत्पादक टीम की दीर्घकालिक सफलता की नींव हैं।

नेतृत्व शैली, मूल्यांकन, उनके प्रदर्शन से ग्रेट मैनेजर कार्यक्रम को भारत में बताने और ग्रेट मैनेजर बनाने के लिए एक इको सिस्टम डवलप करने और संस्कृति को विकसित करने का प्रयास करते हैं। नामित मैनेजर्स का मूल्यांकन अंतरराष्ट्रीय बैंचमार्क और मूल्यांकन मॉडल का उपयोग करके प्रमुख प्रबंधकीय मानदंडों के आधार पर किया जाता है।

हिन्दुस्तान जिंक के पास एक मजबूत एचआर फ्रेमवर्क है जो सभी स्तरों पर अपने कर्मचारियों के साथ घनिष्ठ भागीदारी पर केन्द्रित है। तकनीकी, कार्यात्मक, व्यावहारिक, प्रबंधन और नेतृत्व पहलुओं सहित कर्मचारियों की जरूरतें, भागीदारी को प्रोत्साहित करती है। लैंगिक समानता कंपनी की एक ओर प्राथमिकता है जिसमें सभी स्तरों पर सभी के लिए समान अवसर और प्रतिनिधित्व है। 

वर्ष 2021 में दो महिला कर्मचारी ब्रेकिंग ग्राउण्ड से ब्रेकिंग बैरियर्स तक गईं। संध्या रासकटला भारत की पहली खदान मैनेजर बनीं वहीं योगेश्वरी राणे प्रतिबंधित और अप्रतिबंधित दोनों श्रेणियों में प्रथम श्रेणी प्रमाणपत्र प्राप्त करने वाली भारत की पहली महिला बनीं।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal