जनता को लुभा रहे तुलसी हिरण के ग्रामोद्योग उत्पाद


जनता को लुभा रहे तुलसी हिरण के ग्रामोद्योग उत्पाद

17 दिवसीय खादी एवं ग्रामोद्योग मेला

 
khadi mela
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर 18 दिसंबर 2021। स्थानीय नगर निगम के टाउन हॉल प्रांगण में चल रहे हैं 17 दिवसीय खादी एवं ग्रामोद्योग मेले में तुलसी हिरण के त्रिशला साबुन पाउडर लिक्विड डिटर्जेंट पाउडर  बर्तन डिश वॉश व बर्तन लिक्विड लोगों में काफी लोकप्रिय हो रहे हैं।

शनिवार को मेले में आयोजित प्रेस वार्ता में संचालक तुलसी हिरण ने बताया कि चीरवा के मोहनपुरा स्थित फैक्ट्री में यह उत्पाद बनाए जाते हैं। इन उत्पादों की खासियत यह है कि यह कम दामों के साथ क्वालिटी में भी बेहतर है।

हिरण ने बताया कि उन्होंने 1996 में 70000 रूपयें का लोन लेकर खुद के प्रोडक्ट बनाने की शुरुआत की थी। उस समय यह उत्पाद बनाने में काफी मेहनत लगती थी क्योंकि मशीन से कोई काम नहीं होता था और ना ही इन उत्पादों को बनाने की कोई मशीन ही उपलब्ध थी। उन्होंने अपने उत्पादों को बेचने और लोगों में लोकप्रिय बनाने के लिए स्कूटर पर कई जिलों की यात्राएं की थी। 

धीरे-धीरे उनके उत्पाद लोगों में लोकप्रिय होने लगे। वह अपने उत्पादों को लेकर खादी एवं ग्रामोद्योग प्रदर्शनी में भी जाने लगे। अभी तक उन्होंने ऐसे ही कई प्रदर्शनी में जा कर के अपने उत्पाद बेचे हैं। समय के साथ उनका व्यापार बढा और आज राजस्थान के 16 जिलों में उनके उत्पादों की बिक्री होती है। 1 साल का उनका टर्नओवर करीब एक करोड़ का है। 

उदयपुर में 10,000 से ज्यादा परिवार उन से सीधे जुड़े हुए हैं। वह उनसे फोन पर संपर्क कर आर्डर देते हैं और वह घर घर जाकर उत्पादों की सप्लाई देते हैं। उदयपुर शहर में भी इनके कई डीलर है जहां पर उनका बनाया उत्पाद मिलता है। उन्हें यह उत्पाद बनाने का 25 सालों से ज्यादा का अनुभव है। खुद का प्रोडक्ट शुरू करने से पहले वह गुजरात में उत्पाद बनाने वाली कंपनी में नौकरी करते थे।

प्रदर्शनी संयोजक गुलाब सिंह गरासिया ने बताया कि 11 साल पहले यह राज्य स्तरीय खादी एवं ग्रामोद्योग प्रदर्शनी शुरू हुई थी। आज इस मेले में राजस्थान के विभिन्न जिलों से खादी संस्थाओं से वित्त पोषित इकाइयां भाग लेती है। इस बार इस मेले में गैर वित्त पोषित इकाइयों को भी शामिल किया गया है। 

इसके अलावा इस बार मेले में राज्य से बाहर जैसे बिहार के भागलपुर से उत्तर प्रदेश के लखनऊ से और हरियाणा से भी अपने उत्पाद बेचने के लिए संस्थाएं आई है। गरासिया ने बताया कि आज तक मेले में 49 लाख 7 हजार रूपयें की बिक्री हो चुकी है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal