शिक्षिका का मोबाइल नंबर गलत इरादे से इंस्टाग्राम पर डालने वाले दो मेडिकल स्टूडेंट्स गिरफ्तार

शिक्षिका का मोबाइल नंबर गलत इरादे से इंस्टाग्राम पर डालने वाले दो मेडिकल स्टूडेंट्स गिरफ्तार 

उदयपुर के RNT मेडिकल कॉलेज का मामला
 
RNT

उदयपुर 3 अप्रैल 2024। शहर के RNT मेडिकल कॉलेज के MBBS Students द्वारा शिक्षिका के मोबाईल नम्बर इंस्टाग्राम पर वायरल करने और उसे धमकी देंने के चलते दोनों MBBS Students को धारा 151 सीआरपीसी के तहत पाबन्द किया गया।

दरअसल 1 अप्रेल 2024 को प्रार्थिया ने थाना पर रिपोर्ट दी की वह RNT मेडिकल कोलेज उदयपुर मे प्रोफेसर एवं हैड एनाटोमी विभाग में पोस्टेड है। 23 मार्च को प्रातः 3 बजे के करिब अज्ञात नम्बर से विदेशी कॉल आया था। उसने यह कॉल नही उठाया था। इसके बाद प्रातः 8 बजे पुनः विदेश से कॉल आया था और वाट्सएप पर मैसेज भी आया था। इसके बाद 11 बजे और 3 बजे अज्ञात कॉल आया उन कॉलो पर डेटींग जैसी बात करने वालो के कॉल प्रतीत हुए। शाम 5 बजे इसी तरह के कॉल आए और फिर एक कॉल से उन्हें यह सूचना मिली कि उनका नम्बर किसी ने इंस्टाग्राम पर फ्रेंक कॉल्स के लिये पोस्ट कर दिया हैं। उसी कॉल करने वाले ने इंस्टाग्राम पोस्ट का स्क्रीन शॉट भेजा जिससे उन्हें यह पता चला कि यह बैच 2022 RNT मेडिकल कोलेज के विद्यार्थी द्वारा पोस्ट किया गया हैं। 

बार बार कॉल आने पर सुबह पीड़िता ने हॉस्पीटल पुलिस चौकी पर सम्पर्क किया तथा उन्हे पूरी घटना की सूचना देकर उस विद्यार्थी को मौखिक पाबन्द करवाया कि वह यह पोस्ट इंस्टाग्राम से हटा लेवें। फिर भी कॉल आने पर उसने रिपोर्ट में बताया की 25 मार्च को उसने साईबर सेल मे कम्प्लेंट दर्ज करवाई। 

यशपाल इनाख्या व विजेन्द्र सिहं गुर्जर दोनों ही उसके स्टुडेन्ट है जो वर्तमान में MBBS सेकेण्ड ईयर के छात्र हैं। पीड़िता ने इनके भविष्य को ध्यान मे रखते हुए और एक शिक्षिका होने के नाते इनके विरुद्ध कोई आपराधिक प्रकरण दर्ज नही करवाया। लेकिन इन छात्रों को पाबन्द करवाने भविष्य में इस प्रकार की गलती की पुनरावृति न करने के लिए थानाधिकारी को रिपोर्ट दी।

मामले की गम्भीरता को देखते हुए थानाधिकारी आदर्श कुमार द्वारा प्राप्त रिपोर्ट पर परिवाद दर्ज करा जाँच कानि धर्मपाल के जिम्मे की गई। जाँच से पाया गया की इन दोनो छात्रों ने रिमांड (सप्लीमेन्ट्री) से MBBS प्रथम वर्ष पुर्ण किया हैं।

अप्रार्थी यशपाल इनख्या उम्र 21 वर्ष निवासी ग्राम चान्धन तहसील जैसलमेर जिला जैसलमेर हाल RNT मेडिकल कॉलेज उदयपुर और विजेन्द्र सिहं गुर्जर उम्र 20 वर्ष निवासी छीपा बडोद जिला बारा हाल RNT मेडिकल कॉलेज उदयपुर को समन किया गया घटना के बारे में बताया जाकर इनके द्वारा परिवादीया के मोबाईल नम्बर को इंस्टाग्राम आईडी पर डालने के कारणो के बारे मे पुछा तो बताया कि उन्होंने होली त्यौहार से दो दिन पहले पीड़िता के मोबाईल नम्बर इंस्टाग्राम पर डाल दिये। 

ऐसा उन्होंने पीड़िता द्वारा पढ़ाए जाने वाले विषय में रिमांड (सप्लीमेन्ट्री) आने के कारण मेडम के मोबाईल नम्बर को इंस्टाग्राम पर डाले जिस पर उन दोनो को जॉच कर्ता द्वारा थानाधिकारी के सामने पेश किया गया इस दौरान थानाधिकारी द्वारा भी काफी समझाइश की लेकिन थाना परिसर मे परिवादीया को धमकी देने लगे। इसके चलते इन दोनों को काफी समझाने के बावजुद भी किसी की बात को मानने को तैयार नही थे। 

किसी संज्ञेय अपराध करने की आशंका होने से यशपाल इनख्या और विजेन्द्र सिहं गुर्जर को गिरफ्तारी के अलावा चारा नही होने से धारा 107-151 सीआरपीसी में गिरफ्तार किया जाकर एडीएम शहर उदयपुर के समक्ष पेश कर पाबन्द करवाया गया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal