वायरल वीडियो और पीड़ित के बयान पर 3 अभियुक्तों को गिरफ्तारी

वायरल वीडियो और पीड़ित के बयान पर 3 अभियुक्तों को गिरफ्तारी

पंचों और पूर्व ससुराल पक्ष के उकसाने पर अन्य व्यक्तियों द्वारा की गई बेरहमी से मार पीट 

 
पहले पति समेत 3 लोगों को गिरफ्तार

नाता विवाह करने पर पूर्व पति और ससुराल पक्ष ने की मोटरसाईकल जब्त और मांगे 40 हजार रूपये 

उदयपुर 19 जनवरी 2022। नाता विवाह के मामले वायरल वीडियो और पीड़ित के बयान के आधार पर गोगुन्दा पुलिस ने बिना देरी किये मामले में प्रताड़ित करने वाले 3 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। वायरल वीडियो में साफ़ तौर पर ज़ाहिर हो रहा है की कितनी बेरहमी से एक महिला अन्य महिला पर लाठियों की बौछार कर रही है।  

जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की यह घटना 6-7 दिन पुरानी है लेकिन इस घटना के पीड़ित डर से सहमे पुलिस को इस घटना की जानकारी नहीं दे पाए।  

घटना की सूचना मिलते ही जिला पुलिस अधीक्षक के निदेश में अभियुको की गिरफ्तारी के निदेश जारी हुए जिस पर गोगुन्दा थानाधिकारी कमलेन्द्र सिंह मय टीम द्वारा प्रकरण में शामिल तुलसीराम पुत्र स्वरुप निवासी माचड़ा केलवाड़ा राजसमंद, गोपी लाल पुत्र भंवर निवासी मचिन्द खमनौर राजसमंद, गुलाबी बाई पत्नी गोपीलाल निवासी मचिन्दा खमनौर राजसमंद को डिटेन किया गया।  

नाता विवाह करने पर पूर्व पति और ससुराल पक्ष ने की मोटरसाईकल जब्त और मांगे 40 हजार रूपये   

पुलिस को पीड़ित ने बताया की करीब 1 महीने पहले तुलसी राम पुत्र देवा निवासी मारवास गोगुन्दा से नाता विवाह किया था। इस बात की सुचना पुष्पा के पूर्व पति ने ओड़ा चौकी में दी थी। जिस पर ओड़ा थाना केलवाड़ा के चौकी प्रभारी पप्पूलाल का कहना है की माचड़ा के भील बस्ती निवासी तुलसीराम ने अपनी पत्नी के गुमशुदगी की रिपोर्ट दी थी जिसके बाद इसकी पत्नी को दस्तयाब कर लाए जहाँ उसके बयान करवा पर पीहर पक्ष के सामने सुपुर्द कर दिया था लेकिन वहां पुष्पा ने तुलसीराम के साथ रहने की बात कही थी जिसके बाद दोनों पति पत्नी मारुवास रहने लगे।  

लेकिन यह बात पुष्पा के पहले पति को खटकने लगी जिसके बाद 11 जनवरी को रात में करीबन 10 बजे एक पिकअप में करीब 15 व्यक्ति भरकर आये जिसमे पुष्पा का पूर्व पति तुलसीराम निवासी माचडा, वजेराम पुत्र तुलसीराम निवासी माचडा और पुनाराम पुत्र उदा निवासी फतेहपुर जो की समाज के पंच है। पंच सहित कुछ लोग दादागीरी से तुलसीराम के घर में घुस पर तोड़फ़ोड़ करने लगे और दोनों दम्पति के साथ मारपीट कर जबरदस्ती दोनों के हाथ पाँव बाँध कर पिकअप में बैठा दिया जिसके बाद पुष्पा और तुलसीराम को पुष्पा के पूर्व पति तुलसीराम (माचड़ा) के घर ले गए। जहाँ दोनों दम्पति को रस्सी से बांध दिया गया। इस दौरान पंचों और परिवार वालो के उकसाने पर सभी दम्पति से मारपीट करते रहे। 

जब पंचों का जोर खत्म नहीं हुआ तो दम्पति को माचड़ा लाने से पहले तुलसीराम की 3 महीने पूर्व ली गयी नयी मोटरसाईकल भी जब्त कर ली और पंचो ने दम्पति पर 40 हज़ार कर जुर्माना लगाया और कहा जुर्माने की राशि लेकर आना और साथ में अपनी मोटरसाईकल भी ले जाना।  

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal