पारा खेत चौराहे पर हुआ हादसा, ट्रक ने खड़े हुए वाहनों को कुचला

पारा खेत चौराहे पर हुआ हादसा, ट्रक ने खड़े हुए वाहनों को कुचला

गनीमत रही कोई जनहानि नहीं हुई लेकिन दो बाइक और दो स्कूटी क्षतिग्रस्त
 
पारा खेत चौराहे पर हुआ हादसा, ट्रक ने खड़े हुए वाहनों को कुचला
मौके पर फूटा प्रशासन के खिलाफ आक्रोश

उदयपुर 30 जुलाई 2020। झामर कोटडा मार्ग_कलड़वास रीको पाराखेत चौराहे पर गुरुवार दोपहर को अचानक तेज गति से आते हुए सीमेंट कंक्रीट ट्रक दो दुकानों में जाकर घुस गया। दुर्घटना से दुकानों के बाहर खड़ी दो स्कूटी एवं दो बाइक बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। वहीँ दुर्घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची हिरणमगरी थाना पुलिस ने कारवाई कर दुर्घटनास्थल से ट्रक को हटवाया। 

मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शी पूर्व उप सरपंच मदन लाल डांगी ने बताया कि मेन रोड झामर कोटडा पर बारी माता घाटी एवं पारा खेत चौराहा घाटी मौके पर बहुत बड़ी घाटी है जिसकी वजह से आए दिन वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो जाते हैं।  इस रोड पर यातायात दबाव काफी बढ़ चुका है एवं बारी माता (घाटी) एवं पारा खेत चौराहा (घाटी) पर काफी ढलान है जिसकी वजह से आए दिन वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं गनीमत रही कि कोई जनहानि नहीं हुई। 

पूर्व में कई बार पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों प्रशासन को अवगत कराया जा चुका है फिर की फिर भी स्थिति वैसी की वैसी ही है पूर्व उप सरपंच मदन लाल डांगी ने प्रशासन से तुरंत इस रोड का ढलान कम करने की मांग की है।  

मौके पर फूटा प्रशासन के खिलाफ आक्रोश

पूर्व उप सरपंच सुरेश चंद्र डांगी, युवा नेता देवी लाल डांगी, ताराचंद डांगी, योगेंद्र सिंह, मोहनलाल, रामलाल डांगी आदि सैकड़ों की तादाद में ग्रामीणों ने पीडब्ल्यूडी (विभाग) के प्रति आक्रोश व्यक्त किया। पारा खेत के निवासियों, जनप्रतिनिधियों एवं ग्रामीणों ने यूआईटी के अधिकारियों के समक्ष विरोध जताया। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि पारा खेत चौराहा एवं पेट्रोल पंप के सामने कुछ भूमाफिया ने आम रोड पर अवैध दुकानें खड़ी कर दी है जिसकी वजह से सड़क संकडा हो गया है। जिसकी वजह से आए दिन दुर्घटना का शिकार बनते है राहगीर !

पूर्व उपसरपंच मदन लाल डांगी ने बताया कि पूर्व में भी नगर विकास प्रन्यास एवं तहसील में कई बार शिकायतें की जा चुकी है लेकिन भूमाफियाओं ने प्रशासन से मिलीभगत कर कालांतर में दुकानें खड़ी कर दी। कई दुकानों की जमीन खाते में (किस्म) आम रास्ता है, प्रशासन को कई बार अवगत कराया जा चुका है लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। डांगी ने नगर विकास प्रन्यास एवं तहसीलदार (गिर्वा) एवं जिला प्रशासन से उक्त दुकानों का अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई हेतु प्रशासन से मांग की है। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal