अजीत सिंह आनंद ने मीडिया के सामने रखा अपना पक्ष

अजीत सिंह आनंद ने मीडिया के सामने रखा अपना पक्ष

एडवोकेट के साथ मीडिया को प्रस्तुत किये दस्तावेज

 
ajeet singh anand

उदयपुर 1 जून 2023 । प्रोपेर्टी व्यवसायी सेक्टर 11 निवासी अजीत सिंह आनंद पर शहर के कुछ लोगो द्वारा लगाए गए जबरन वसूली, धोखाधड़ी और जालसाजी के आरोपो के बाद इस मामले में एक नया मोड़ सामने आया है। 

मंगलवार को जहा नवीन सरूपरिया, विकास नलवाया, भूरीलाल शर्मा, गिरधारी चौधरी, पूरन जोशी ने पत्रकार वार्ता कर अजीत सिंह आनंद पर ब्याज वसूली और पुलिस को 20 लाख बंदी देने के आरोप लगाए थे। वहीँ आज अजीत सिंह आनंद ने प्रेस वार्ता कर इन सभी आरोपो को निराधार बताते हुए अपने वकील दिलीप पालीवाल के साथ सभी मामलों को लेकर मीडिया के सामने दस्तावेज प्रस्तुत किये। 

अजीत सिंह आनंद के वकील दिलीप पालीवाल ने बताया कि गिरधारी चौधरी, नवीन सरूपरिया, विकास नलवाया भूरीलाल और पूरण जोशी ने 384, 420, 406 की धाराओं में घंटाघर, सूरजपोल ओर भूपालपुरा में रिपोर्ट दर्ज करवाई हालांकि इन धाराओं के आधार पर कोई सीसीटीवी फुटेज, दस्तावेज, धमकी भरी कॉल या मेसेज के कोई सुबूत पेश नही किये। धोखाधड़ी के आरोप लगाए लेकिन सभी लेनदेन आरटीजीएस से हुआ और जमीन के नामांतरण तक हुए, ऐसे में कोई ठोस सबूत पेश नही करने के कारण नवीन ओर विकास द्वारा दर्ज 384 के मामले में गिरफ्तारी पर स्टे भी मिल चुका है। इसके साथ ही नवीन सरूपरिया एवं उनकी पत्नी मधु सरूपरिया ने पंचवटी स्थित 34/110 पर निर्माणाधीन बिल्डिंग के द्वितीय और तृतीय तल बने 14 ऑफिस अजीत सिंह को बेचान कर रखे है, बावजूद इसके इन ऑफिस को अन्य लोगो को भी बेचे जा रहे है।

इधर आरोप लगने के बाद अजीत सिंह ने मीडिया को बताया कि पांचों ही लोगो ने अजीत सिंह के साथ प्रोपर्टी खरीदने को लेकर आपसी लेनदेन किया था। सभी लेनदेन कानूनी तरीको और स्टाम्प पर शर्तो के साथ हुआ लेकिन बाद में नियत बदल जाने पर सभी ने मिलकर षड्यंत्र पूर्वक विभिन्न धाराओं में मुकदमे दर्ज करवाये। अजीत सिंह ने इस मामले को लेकर मीडिया के सामने नवीन सरूपरिया द्वारा दबाव बनाकर षड्यंत्र पूर्वक अजीत को फंसाने का ऑडियो भी प्रस्तुत किया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal