युवक की संदिग्ध अवस्था में मौत


युवक की संदिग्ध अवस्था में मौत

हत्या का आरोप लगाकर जांच को भटक रहे परिजन; पाटिया पुलिस ने FIR तक दर्ज नहीं की
 
crime
UT WhatsApp Channel Join Now

एक युवक का संदिग्ध अवस्था में फांसी के फंदे पर शव मिलने के मामले में परिजन हत्या का आरोप लगाते हुए बीते डेढ़ माह से न्याय की गुहार लगा रहे हैं। पुलिस द्वारा जांच तो दूर, अभी तक FIR ही दर्ज नहीं की गई। मामला उदयपुर के पाटिया थाना क्षेत्र का है, जिसे लेकर परिजन SP योगेश गोयल और IG अजयपाल लांबा के समक्ष पेश होकर थाने में मामला दर्ज कराने की मांग कर चुके हैं। इसके बावजूद पाटिया थाना पुलिस ने FIR दर्ज नहीं की। मृतक युवक प्रकाश डामोर की माता कांता देवी का आरोप है कि उनके बेटे की हत्या की गई है।

बेटे का शव 20 अप्रैल 2024 को गांव की ही एक महिला के घर में मिला था, जहां, आरोप है कि उसकी हत्या कर शव को फंदे से लटकाकर सुसाइड का रूप दिया गया। घटना स्थल पर फंदे से झूलते वक्त मृतक के पैर जमीन पर पूरी तरह टिके हुए थे, और गले में चोट के निशान थे। मृतक की माता ने एक महिला पर अपने बेटे को प्रेम प्रसंग में फंसाकर उसकी हत्या करने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि पुलिस बेटे की मौत को सुसाइड मान रही है और हत्या के एंगल से जांच नहीं कर रही। पुलिस ने मृतक युवक का ज़ब्त मोबाइल भी वापस नहीं लौटाया है और ना ही उसकी कॉल डिटेल खंगाली। परिजनों ने ये भी आरोप लगाया कि पुलिस द्वारा उन्हें अभी तक पोस्टमार्टम की रिपोर्ट तक नहीं सौंपी गई।

युवक ने सुसाइड किया, PM रिपोर्ट में पुष्टि

पाटिया थानाधिकारी देवेन्द्र सिंह का मामले में कहना है कि युवक का एक महिला से प्रेम प्रसंग था। उसी के घर उसने सुसाइड किया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी इसकी पुष्टि हुई है कि उसने शराब पीकर फांसी लगाई है। उसके शरीर पर कोई चोट के निशान नहीं थे। देवेन्द्र ने बताया की मामले में पुलिस आगे जांच कर रही हैं।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal