ऑटो रिक्शा चालक द्वारा आत्मदाह करने के मामले में कार्यवाही को लेकर एसपी से गुहार

ऑटो रिक्शा चालक द्वारा आत्मदाह करने के मामले में कार्यवाही को लेकर एसपी से गुहार

परिजनों ने पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा से मुलाकात की और उन्हें अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपते हुए इंसाफ दिलाने की बात कही

 
auto rikshaw

उदयपुर 25 मई 2023। मार्च महीने में एक ऑटो रिक्शा चालक द्वारा किए गए आत्मदाह के मामले में आरोपी द्वारा मामला वापस उठाने और पुलिस द्वारा कार्रवाई नहीं करने की बात को लेकर मृतक ऑटो चालक के परिजनों ने मंगलवार को उदयपुर पुलिस अधीक्षक विकास शर्मा से मुलाकात की और उन्हें अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपते हुए इंसाफ दिलाने की बात कही।

प्रार्थी शहजाद खान निवासी दीवान शाह कॉलोनी ने एसपी कों लिखें गए अपने पत्र में अवगत कराया कि 28 मार्च 2023 को उसके द्वारा थाना घंटाघर में एक मामला दर्ज कराया गया था जिसमें उसने कहा था कि उसके छोटे भाई सलमान जो कि एक ऑटो चालक है उसे राजू और बाबू नाम के व्यक्ति द्वारा डराया धमकाया जा रहा है और दोनों ने उसका ऑटो रिक्शा और एक स्कूटी भी छीन कर ले गए है, जिससे उसका रोजगार भी काफी प्रभावित हुआ है। थाने में दी गई अपनी रिपोर्ट में उसने यह भी अवगत कराया था कि इसी के चलते मानसिक रूप से परेशान रहने लगा और सलमान ने कुछ ही समय बाद अपनी जीवन लीला को समाप्त कर लिया।

प्रार्थी शहजाद ने अपनी रिपोर्ट में एसपी को बताया कि उसके द्वारा थाने में दर्ज कराई गई रिपोर्ट पर पुलिस द्वारा धारा 306 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया गया लेकिन आज दिन तक उसमें कोई कार्रवाई नहीं की गई है। ना ही इस मामले में अभी तक कोई गिरफ्तारी की गई है और ना ही मृतक का ऑटो रिक्शा और स्कूटी की रिकवरी की गई है।

अपनी रिपोर्ट में शहजाद ने एसपी से पुलिस और अपराधियों की मिलीभगत होने का आरोप भी लगाया है और साथ ही यह बात कही है कि पुलिस की शह मिलने से अपराधियों के हौसले बुलंद हो गए हैं और आए दिन वह प्रार्थी के परिवार जनों को धमकाने लगे हैं, साथ ही उनके द्वारा प्रार्थी और उसके परिवार जनों पर रिपोर्ट वापस लेने का दबाव भी लगातार बनाया जा रहा है। ऐसे में प्रार्थी शहजाद ने एसपी से मामले की जांच उच्च अधिकारियों से करा कर आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की मांग की है।

गौरतलब है कि मृतक सलमान जो कि पेशे से एक ऑटो चालक था उसने मार्च माह में मानसिक रूप से परेशान होने की वजह से आत्मदाह कर लिया था।  जिसके बाद मृतक के परिवारजनों ने घंटाघर थाने में आरोपियों के खिलाफ मामला भी दर्ज कराया था, लेकिन अब मृतक के घरवालों का आरोप है कि करीब 3 महीने गुजर जाने के बाद भी अभी तक आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

एसपी उदयपुर विकास शर्मा ने कहा की अब इस मामले कों जांच डिप्टी एसपी वेस्ट कों सौंप दी गई हैं, इसको निष्पक्ष जांच कर आरोपियों के खिलाफ अपराध सिद्ध होने में उचित कार्यवाही की जाएगी।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal