बंटी आंजना की हत्या का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

बंटी आंजना की हत्या का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

2 फरवरी को निम्बाहेड़ा उपकारागृह के सामने विकास उर्फ बंटी आंजना की गोलियों से भूनकर की गई थी हत्या

 
arrest

उदयपुर 15 फरवरी 2023। चित्तौडग़ढ़ जिले के निम्बाहेड़ा में गत 2 फरवरी को निम्बाहेड़ा उपकारागृह के सामने विकास उर्फ बंटी आंजना की गोलियों से भूनकर हत्या के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी अजयपाल जाट व कृष्णपाल उर्फ कान्हा सिसोदिया को गिरफ्तार कर लिया है। 

चित्तौडग़ढ़ पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यन्त ने घटना को गंभीरता से लेते हुते खुलासा करने के निर्देश दिये, जिस पर अति पुलिस अधीक्षक अर्जुन सिंह शेखावत व राजीव जोशी के नेतृत्व में पुलिस उपाधीक्षक आशीष कुमार के सुपरविजन में निम्बाहेडा थानाधिकारी फूलचन्द के नेतृत्व में अनुसंधान व मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमे गठित की गई। 

घटना स्थल के पास लगे सीसीटीवी केमरा के फुटेज व गहन अनुसंधान कर अभियुक्तों की पहचान की गई। अनुसंधान के दौरान सामने आया कि आरोपियो को घटना मे प्रयुक्त दोनो मोटर साईकिल उपलब्ध करवाने व आपराधिक षडयन्त्र मे भागीदारी होने पर पुर्व में कमल सिह पिता इन्द्र सिह राजपुत निवासी अम्बानगर निम्बाहेडा एवं घटना के बाद अभियुक्तगणो को मन्दसौर मे अपने होटल पर शरण देने वाले राहुल सुर्यवंशी पिता रोडमल सुर्यवशी चमार निवासी गुलियाना थाना दलोदा जिला मन्दसौर व अभियुक्त को पुलिस के आने की जानकारी देने व फरार करने मे सहयोग करने पर प्रभुलाल पिता भंवर लाल जाट निवासी बही पाश्र्वनाथ थाना पिपलिया मण्डी जिला मन्दसोर को गिरफ्तार किया गया था। 

शेष अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक कार्यालय से अपराधियों की गिरफ्तारी पर प्रत्येक पर 5-5 हजार रूपये ईनाम की घोषणा की गई तथा जिला स्तर एवं वृत स्तर पर पुलिस टीमो का गठन किया जाकर मुल्जिमान की गहन तलाश आस पास व मध्यप्रदेश मे जारी रखी गई। 

पुलिस ने हत्या के मुख्य आरोपी अजयपाल पिता प्रभुलाल जाट व कृष्णपाल उर्फ कान्हा पिता गुलाब सिह सिसोदिया निवासी गोगरपुरा थाना पिपलिया मण्डी जिला मन्दसोर को होरी हनुमान मन्दिर अरनोद जिला प्रतापगढ से डिटेन कर अनुसंधान प्रकरण मे बापर्दा गिरफतार किया गया। 

मामले में दो अन्य अभियुक्त सुरेश जाट पिता किशोर जाट निवासी पित्याखेडी थाना वाईडी नगर जिला मन्दसौर व रमेश उर्फ कान्हा पिता मन्नालाल जाति भील निवासी नई सिगरी अम्बानगर थाना कोतवाली निम्बाहेड़ा की तलाश जारी है। 

आरोपियों को पकडऩे में पुलिस टीम के पु.नि. विरेन्द्र सिंह, स उ नि सूरज कुमार, हैड कानि मुकेश चौधरी, महावीर सिंह, प्रमोद, हरविन्दर सिंह, धर्मेद्र सिंह, रतन सिंह, कानि राकेश कुमार, हेमन्त, हैड कानि साईबर सेल राजकुमार, कानि रामावतार का सहयोग रहा।

मुल्जिमान से पुछताछ के दोरान खुलासा हुआ कि मुल्जिम अजयपाल प्रतापगढ जिला कारागृह में रहा था उसी समय मुल्जिम अरविन्द आंजना पुत्र भंवर लाल आंजना निवासी केसुन्दा भी जेल में था जिससे घनिष्ठता हो गई। इसी दोरान अरविन्द आंजना ने अपनी स्वयं की रंजिश बन्टी आंजना उर्फ विकास से होने से उसकी हत्या करने के लिये अजयपाल को तैयार कर लिया। 

अजयपाल बेरोजगार होकर आर्थिक तंगी से जुंझ रहा था जो अरविन्द आंजना से 15 लाख रूपये की राशि तय करके विकास उर्फ बन्टी आंजना की हत्या करने के लिये सहमत हो गया इसके बाद अजयपाल ने इस कार्य को अंजाम देने के लिये अपने साथ सुरेश जाट, कृष्णपाल उर्फ कान्हा, रमेश उर्फ कान्हा भील को साथ लिया व दो तीन माह से बंन्टी आंजना की रेकी छोटीसादडी, निम्बाहेडा आदी जगह करते हुवे घटना को अंजाम दिया। इस घटना से पुर्व दो तीन बार अजयपाल व इसके साथियो को बंन्टी आंजना छोटी सादडी क्षैत्र में मिला परन्तु उस समय बन्टी आंजना के साथ 5-7 लोग होने से योजना टाल दी। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal