ब्याज वसूली से परेशान बुजुर्ग की विषाक्त सेवन से मौत

ब्याज वसूली से परेशान बुजुर्ग की विषाक्त सेवन से मौत 

परिवार वालों ने ब्याज माफिया के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की

 
consumed poison

उदयपुर 13 मार्च 2024। मंगलवार को सवीना कृषि मंडी के बाहर वृद्ध ऑटो चालक ने मंगलवार दोपहर को जहर खा लिया जिससे उनकी मौत हो गई, दरअसल जानकारी के अनुसार वृद्ध गणपत सिंह ने तीन लाख रूपये उधार पर लिए थे जिसका करीबन 9 लाख रुपया ब्याज वह चुका चुके हैं बावजूद इसके ब्याज माफिया ने अपने पास रखे खाली चेक को बैंक में डालने की धमकी देकर अवैध रूप से ब्याज वसूलता रहा।  

इसी मामले में पुलिस ने भी ब्याज माफिया को दो दिन में समस्या का समाधान करने को कहा था। परंतु फिर भी लगातार धमकी मिलने से परेशान होकर गणपत सिंह ने आत्महत्या कर ली, मृतक के बेटे ने बताया कि कृषि उपज मंडी समिति के स्टाफ क्वार्टर में रहने वाले गणपत सिंह सवीना कृषि मंडी में लोडिंग ऑटो चलाते थे। मंगलवार सुबह वह काम पर गए थे। 

सुबह करीब 10 बजे परिजनों ने फोन किया, तो उन्होंने नहीं उठाया इस पर मां ने बेटे विजय को फोन कर इस बात की जानकारी दी। बेटा पिता को ढूंढता हुआ कृषि मंडी के बाहर पहुंचा। जहां आँटो के पास पिता बेहोश पड़े थे। बेटा उन्हें निजी हॉस्पिटल लेकर पहुंचा, जहां पता चला कि वृद्ध ने जहर खा लिया है। देर शाम को मृतक के बेटे विजय सिंह ने आरोप लगाए कि बीएसएनएल ऑफिस के पास, हिरणमगरी निवासी लोगर लाल डांगी उनके पिता को धमका कर अवैध रूप से ब्याज वसूली कर रहा था। पिता ने परेशान होकर दो दिन पहले एसपी को परिवाद भी दिया था, उधार व ब्याज सहित पैसा चुकाने के बाद जब उन्होंने चेक मांगा तो लोगर ने देने से इनकार कर दिया और चेक भरकर बैंक में डालने की धमकी दी। 

इसके बाद भी लोगर हर माह 15 हजार रुपए वसूलता रहा। चार महीनों से ब्याज देना बंद कर दिया, तो लोगर ने धमकियां दी। गणपत ने परिवाद में भी बताया था कि वह आत्महत्या करने के लिए मजबूर हो गया है। पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए शव का पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सुपुर्द किया है तो वही पुलिस पूरे मामले की अग्रिम अनुसंधान में जुटी है। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal