सम्पति हड़पने के लिए अंकल आंटी ने छोड़ा तो बाद में छेड़छाड़ की शिकार हुई युवती


सम्पति हड़पने के लिए अंकल आंटी ने छोड़ा तो बाद में छेड़छाड़ की शिकार हुई युवती

एमबी अस्पताल में भर्ती यूपी निवासी युवती के बयानों के आधार पर पुलिस ने दर्ज किया मामला

 
CRIME
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर 2 सितंबर 2022 जहां सरकार देश को महिलाओं को मजबूत मनाने के जमीन जायदाद के लालच में अंकल आंटी ने मारपीट कर युपी निवासी एक युवती को घर से बाहर निकाल दिया। उदयपुर के आश्रम में रह रही युवती के साथ चौकीदार ने कथित रूप से की गंदी हरकत, जैसे तैसे आश्रम से निकली युवती, शहर के एमबी अस्पताल गेट के बाहर बेहोशी की हालत में मिली। हॉस्पिटल के सुरक्षा गार्ड ने एमबी अस्पताल में भर्ती कराया।

यूपी निवासी एक युवती को उसके अंकल आंटी ने जमीन जायदाद के लालच में मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया पीड़ित युवती ने बताया कि उसके मां-बाप की बहुत बड़ी जमीन जायदाद है और उसको हड़पने के लिए उसके लालची अंकल आंटी ने उसके साथ मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया। 

पीड़िता के बयान के अनुसार वह उसके पिता की इकलौती औलाद है और उसकी जमीन जायदाद को हड़पने की नियत से अंकल आंटी ने उन्हें पागल करार दे दिया और अंकल आंटी उनकी सम्पति हड़पना चाहते है, इसी के चलते उन्होने इतना घिनौना कृत्य किया। पीड़ित युवती के अनुसार उसने आठवीं क्लास तक पढ़ाई की हैं, उसके माता-पिता की मौत के बाद से वो अपने अंकल आंटी के साथ रहती हैं, युवती की माने तो उसके अंकल आंटी उसके साथ मारपीट करते यही नही वो उसे पागलखाने में भर्ती भी कराना चाहते थे लेकिन युवती पागलखाने में नहीं जाना चाहती थी। ऐसे में पीड़ित युवती के अंकल आंटी ने उसे उदयपुर छोड़ कर वापस युपी लौट जाने के लिए उसे छोड़कर चले गए।

हालांकि इधर उधर भटक रही युवती को उदयपुर शहर के एक संस्थान में आसरा मिला था लेकिन वहां पर भी वहां के चौकीदार ने कथित रूप से उसके साथ घिनौनी हरकत की।

पीड़िता फिर वहां से जान बचाकर भाग निकली। युवती एमबी अस्पताल के बाहर बेहोशी की हालत में पड़ी हुई थी,जिसको बाद में हॉस्पिटल के सुरक्षा गार्ड ने  हॉस्पिटल में भर्ती करवाया। होश में आने के बाद जो बात युवती के आस पास भर्ती मरीज के परिजनों होनी आप-बीती सुनाई तो सबके होश उड़ गए। जिसके बाद उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दी। सूचना मिलते ही हॉस्पिटल पुलिस चौकी ने युवती के बयान के आधार पर मामला दर्ज किया ।

पीड़िता ने बताया कि अगर पुलिस आरोपी चौकीदार को उसके सामने लाती हैं तो वो उसकी पहचान कर सकती हैं। ऐसे में पुलिस जांच के बाद ही सामने आ पाएगा की युवती द्वारा चौकीदार पर लगाए गए आरोप कितने सच्चे हैं और अगर उसमे सत्यता हैं तो क्या आरोपी को उसका गुनाह साबित होने के बाद सज़ा मिलती हैं।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal