चित्तौड़गढ़: कपासन दरगाह के उर्स मेले में हुई हत्या का खुलासा

चित्तौड़गढ़: कपासन दरगाह के उर्स मेले में हुई हत्या का खुलासा

कोटा के तीन आरोपी गिरफ्तार

 
Kapasan Murder Accused Arrested

चित्तौड़गढ़, 30 अगस्त। कपासन थाना पुलिस ने कपासन दरगाह के उर्स मेले के दौरान 26 अगस्त को मध्यप्रदेश के एक युवक की हत्या का खुलासा करते हुए हत्या करने वाले कोटा के तीन आरोपियों को बापर्दा गिरफ्तार किया है। सोते हुए की दरी पर पैर लग जाने की मामूली बात पर बढ़े विवाद में हुई थी युवक की हत्या।

पुलिस अधीक्षक श्री राजन दुष्यंत ने बताया कि कपासन में दीवाना शाह के उर्स के दौरान 26 अगस्त को अज्ञात बदमाशों ने मध्यप्रदेश के मुल्तानपुरा थाना वाईडीनगर जिला मन्दसौर निवासी आशिक पुत्र अफजल लक्कड की चाकू मारकर हत्या करने व उसके दो अन्य साथियों के साथ लट्ठ से मारपीट करने पर कपासन थाना पर हत्या व मारपीट का मुकदमा दर्ज कर जांच थानाधिकारी कपासन गजेन्द्रसिंह द्वारा की गई।

मामले की गंभीरता को देखते हुये मामले का शीघ्र खुलासा करने के निर्देशन दिये। एएसपी बुगलाल मीणा व वृताधिकारी कपासन बुद्वराज के सुपरविजन में थानाधिकारी गजेन्द्रसिंह मय पुलिस जाप्ता हैडकानिं. सुरपालसिंह, तेजमल, कानिं. सुनिल चौधरी, दिनेश, सोनाराम, जितेन्द्र की टीम का गठन किया गया। पुलिस टीम द्वारा घटना स्थल व आसपास के सीसीटीवी फुटेज विडियो एवं मुखबिरान, गोपनीय रुप से अनुसंधान किया गया।

CCTV के संदिग्ध फुटेज व मुखबिर की सुचना के आधार पर उक्त घटना में संदिग्ध कोटा जिले के पुलिस थाना नयापुरा के होने की जानकारी प्राप्त होने से थानाधिकारी मय जाप्ता पुलिस थाना नयापुरा जिला कोटा पहुंच कर थानाधिकारी नयापुरा रमेश कुमार मीणा पुलिस निरीक्षक के निर्देश पर थाना नयापुरा के कानिं. परमेष्वर, श्याम सुंदर व लोकेष की सहायता से मृतक आशिक की चाकु मार कर हत्या करने में संलिप्त आरोपियों कोटा के कब्रिस्तान के सामने नया पुरा निवासी 21 वर्षीय अमन फखीरा पुत्र हनीफ फखीर, 21 वर्षीय सोहेल खान पुत्र कल्लु अली व 18 वर्षीय लक्की पुत्र जाकीर फखीर को बापर्दा गिरफ्तार किया गया जाकर प्रकरण में अन्य साथी आरोपियों के बारे में गिरफ्तारशुदा मुल्जिमानों से गहनता से पुछताछ कर तलाश जारी हैं।

घटना का कारण
मृतक आशिक पुत्र अफजल लक्कड निवासी मुल्तानपुरा थाना वाईडीनगर जिला मन्दसौर मध्यप्रदेश के भाई चांद मोहम्मद का उर्स मेले के दौरान रात्री में महबुब पार्क में सोये हुये लडको की दरी पर पैर लग जाने से दोनो पक्षों में आपसी बोलचाल होकर लडाई झगडा हो गया। जिसपर मुल्जिम पक्ष के लोगो द्वारा बेसबाॅल के डण्डे, लठ एवं चाकु से हमला कर दिया। जिससे मृतक आशिक के सीने एवं जांघ पर चाकु की लग जाने से ईलाज के दौरान सावलिया जी हाॅस्पिटल चित्तौडगढ में मृत्यु हो गई।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal