प्रेम प्रसंग के चलते किया अपहरण

प्रेम प्रसंग के चलते किया अपहरण 

डेंटल कॉलेज के प्रथम वर्ष के छात्र के साथ 4 युवती सहित 2 युवक ने रची अपहरण की साजिश 

 
crime

4 युवतिया और 5 लोगो के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस ने की मामले की छानबीन 

उदयपुर - जिले के हिरणमगरी थाने क्षेत्र में डेंटल कॉलेज के छात्र के साथ हुए अपहरण का मामला दर्ज हुआ। अपहरण के मामले पर कार्यवाही करते हुए हिरणमगरी पुलिस ने साजिश में शामिल हुए 2 युवको को गिरफ्तार किया।  

दरअसल, इस अपहरण की साजिश में शिकार बना रोहित मीणा को जब पुलिस ने ढूंढ निकला तब रोहित ने बाकी की कहानी बताते हुए कहा की की वह उदयपुर के दर्शन डेंटल कॉलेज लोयरा में प्रथम वर्ष का छात्र है। मूलतः महाराजपुरा, नांगल, दौसा का निवासी लेकिन डेटल की पढाई की दौरान अभी बॉयस हॉस्टल दर्शन कॉलेज में रहता है।

रोहित ने बताया की वह जब प्रथम वर्ष की परीक्षा देने के लिए सनराइज़ फार्मा उमरडा गया जहाँ उसका परीक्षा केंद्र था। सुबह 10 बजे से 1 बजे तक रोहित की परीक्षा चली। जिसके बाद रोहित वहां से परीक्षा देकर वापस हॉस्टल तरफ लौट रहा था तभी इस दौरान अनिल नाम का एक युवक उसके पास आया जो की बात करने के बहाने स्कूटी से कुछ दुरी पर एक स्थित ढाबे पर ले गया।  वहां ले जाने के बात अनिल ने रौनक नाम के युवक को फ़ोन लगाया।

कुछ देर बाद वहां एक सफ़ेद कलर की बलेनो कार आ कर रुकी जिसमे रोहित को जबरदस्ती गाडी में बैठा कर सुखेर हाईवे की तरफ ले गए।  इसी दौरान रास्ते में पिस्टल से धमकाया और कहा की हम तुझे आगरा लेकर जाएंगे।  इतना कह कर रोहित से उन अपहरणकर्ताओं ने उसका बैग और मोबाइल छीन लिया।  रास्ते में ढाबा आने पर सभी वहां उतरे तथा आपस में बात-चीत  करने लगे तभी रोहित ने मौका देख कर ढाबे के मालिक का फ़ोन लेकर अपने अपहरण की पुलिस और पिता को दी।  

4 युवतियां और 5 लोगो के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस ने की मामले की छानबीन 

मौका पर का रोहित ने पुलिस को अपने अपहरण की सुचना देते हुए बताया की कार जब आई तब उसमे पहले से चार युवतियां मौजूद थी। रोहित ने बताया की पुलिस कण्ट्रोल को सुचना देने पर आरोपियों को पता चलने पर रौनक, अनिल बाकी और एक युवती जो स्कूटी से आये थे वो सभी गाडी लेकर चले गए। जहाँ से पुलिस ने सूचना पाकर मौके पर पहुंची रोहित और एक युवती को लेकर पुलिस स्टेशन आये। 

हालाँकि मामले में प्रथम दृष्टया पुलिस को शक हुआ की यह मामला प्रेम प्रसंग का है और पुलिस का शक सही निकला। आरोपियों पर क़ानूनी कार्यवाही करते हुए थानाधिकारी रामसुमेर मीणा ने अभियुक्त रौनक और अनिल को डेटन कर मामले की पूछताछ की। जिस पर रौनक ने बताया की रोहित उसकी महिला मित्र से बात करता है जिसके चलते कुछ दिनों से दोनों की बात नहीं हो रही थी।  इस बात को लेकर रोहित का अपहरण किया था। पुलिस ने उक्त अभियुक्तों को गिरफ्तार कर न्यायलय में पेश किया और मामले की अग्रिम अनुसन्धान को जारी रखा है।  

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal