सायरा में अपहरण के आरोपी की पुलिस हिरासत में मौत

सायरा में अपहरण के आरोपी की पुलिस हिरासत में मौत  

अपहरण के मामले में पूछताछ के लिए सादड़ी से आरोपी को सायरा थाना लाया गया था 

 
सायरा में अपहरण के आरोपी की पुलिस हिरासत में मौत
मामले की जांच गोगुन्दा एसडीओ नीलम लखारा को सौंपी गई है  
 

उदयपुर।  जिले के सायरा थाना में बुधवार को एक किशोरी के अपहरण के मामले में पूछताछ के लिए लाये गए सादड़ी जिला पाली निवासी लालाराम गरासिया की पुलिस हिरासत में तबियत बिगड़ गई. अस्पताल में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। इस पर सायरा में ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया। बवाल की आशंका के मद्देनज़र सायरा में चार थानों का जाब्ता तैनात किया गया है। वहीँ पुलिस के आला अधिकारियो की मौजूदगी में शव का पोस्टमार्टम किया गया।  

प्राप्त जानकारी के अनुसार  मेडिकल बोर्ड ने प्राथमिक रूप से मौत का कारण कार्डियक अटैक बताया है हालाँकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत का कारणों का पता चल पायेगा।  पुलिस हिरासत में मौत के इस मामले की जांच गोगुन्दा एसडीओ नीलम लखारा को सौंपी गई है।  

क्या है मामला ?

सायरा पुलिस थाना में गत वर्ष एक किशोरी के अपहरण के मामले में किशोरी के पिता ने सादड़ी जिला पाली निवासी चेनाराम उसके भाई लालाराम एवं वंशाराम गरासिया के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। इसी मामले में पूछताछ के लिए जाँच अधिकारी ने सादड़ी जाकर लालाराम से पूछताछ की थी जिसमे लालाराम ने स्वीकार किया था की अपह्रत किशोरी को उसके खेत पर लाया गया था इसके बाद उसने कालूराम गरासिया के साथ बाइक पर दूसरी जगह भेज दिया था। इस पर पुलिस मंगलवार को लालाराम को पूछताछ के लिए सायरा लाया गया था।  

पुलिस हिरासत में लिए गए लालाराम गरासिया पुत्र तन्नाराम गरासिया निवासी सादड़ी जिला पाली की बुधवार सुबह अचानक तबियत बिगड़ गई। पुलिसकर्मी उसे लेकर सायरा सीएचसी ले गए जहाँ उसे प्राथमिक उपचार के बाद उदयपुर रेफर किया गया। उदयपुर लाते समय रास्ते में उसकी मौत हो गई। 

लालाराम की मौत के बाद परजिनों ने पुलिस हिरासत में हुई मौत को संदेहास्पद बताया है वहीँ पुलिस अधिकारियो ने परिजनों के आरोपों को सिरे से नकार दिया है। पूरा मामला जांच के बाद ही सामने आएगा।   

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal