आज रात बिछड़ी पेट्रोल पंप लूटना और जो भी सामने आएगा उसकी हत्या करनी है

आज रात बिछड़ी पेट्रोल पंप लूटना और जो भी सामने आएगा उसकी हत्या करनी है

प्रतापनगर थाना पुलिस ने बिछड़ी पेट्रोल पंप लूट की योजना बनाते पांच शातिर बदमाशों को उदयसागर पाल के नीचे स्थित सुनसान देवड़ा राजपूत समाज के नोहरे की छत पर अँधेरे में लूट को योजना बनाते पांच

 

आज रात बिछड़ी पेट्रोल पंप लूटना और जो भी सामने आएगा उसकी हत्या करनी हैबिछड़ी पेट्रोल पंप बिछड़ी पेट्रोल पंप लूट की योजना बनाते पांच गिरफ्तार

प्रतापनगर थाना पुलिस ने बिछड़ी पेट्रोल पंप लूट की योजना बनाते पांच शातिर बदमाशों को उदयसागर पाल के नीचे स्थित सुनसान देवड़ा राजपूत समाज के नोहरे की छत पर अँधेरे में लूट को योजना बनाते पांच शातिर बदमाशों को धर दबोचा। गिरफ्त में आये बदमाशों से पुलिस ने तलवार,छुरी, लट्ठ, लाल मिर्च पाउडर और रस्सी एवं मौके से दो मोटरसाइकिल भी बरामद की है।

प्रतापनगर थानाधिकारी ने बताया की मुखबिर से प्राप्त सुचना पर मय जाब्ता कांस्टेबल राजेंद्र सिंह, अशोक सिंह, हनुमानराम, मनोज कुमार, खुमान सिंह उदयसागर पाल के नीचे स्थित सुनसान देवड़ा राजपूत समाज के नोहरे की छत पर अँधेरे में पांच बदमाश आपस में बात कर रहे थे की आज रात पेट्रोल पंप लूटना और जो भी सामने आएगा उसकी हत्या करनी है। जिस पर थानाधिकारी ने मय जाब्ता घेरा डालकर बदमाशों को धर दबोचा।

पांचो का है आपराधिक इतिहास

गिरफ्तार शुदा पांचो अपराधियों का अपराध से पुराना आपराधिक इतिहास रहा है। पांचो अपराधी छंटे हुए बदमाश और शातिर है। पुलिस द्वारा गिरफ्तार वेणीराम उर्फ़ विनोद पुत्र मोहन निवासी बोयना हाल दक्षिण सुंदरवास कुछ महीने पहले ही चोरी के प्रकरणो में सजा काट कर जेल से बाहर आया है। जबकि राजू पुत्र गंगाराम निवासी उत्तरी सुंदरवास हत्या के केस में सजायाफ्ता है (फिलहाल ज़मानत पर बाहर था), इसके अलावा बाकि तीन शातिर किशन पुत्र परथा निवासी मीरा नगर आरटीओ रोड, लोकेश पुत्र नारायण निवासी उत्तरी सुंदरवास, चेतन सिंह पुत्र भगवान सिंह निवासी शिव कॉलोनी के विरुद्ध भी पहले नकबजनी, लूट, चोरी कई प्रकरण विभिन्न थानों में दर्ज है।

उक्त अभियुक्तों ने पूछताछ के दौरान फतेहनगर से मोटरसाइकिल और सूने मकान से रात्रि के वक़्त सोने चांदी के आभूषण चोरी करना स्वीकार किया है। पूछताछ में और भी कई वारदाते खुलने की सम्भावना है। घटना स्थल से बरामद मोटर साइकिल भी अभियुक्तों द्वारा चुरा कर लायी गयी है ताकि वारदात के अंजाम देने के बाद पता न चल सके की वारदात किसने अंजाम दी है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal