रेज़ीडेंट डॉक्टर्स पर हमले के आरोपी गिरफ्तार


रेज़ीडेंट डॉक्टर्स पर हमले के आरोपी गिरफ्तार 

हाथीपोल थाना पुलिस ने 48 घंटो में किया मामले का खुलासा 

 
arrest by hathipol police station
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर 8 जुलाई 2024। ड्यूटी पर जाते रेजीडेन्ट डॉक्टरो पर अज्ञात बदमाशों द्वारा धारदार हथियार से जानलेवा हमला करने के मामले का हाथीपोल थाना पुलिस ने 48 घंटो मे खुलासा करते  दो आरोपी को गिरफ्तार किया। आरोपी मोहम्मद अमान उर्फ लक्की उर्फ माया पुलिस गिरफ्त से बचने के लिये भागा जिसकी वजह से उसका पैर टूट गया। 

दरअसल 5 जुलाई 2024 को MB Hospital के 24 वर्षीय डॉ सुरेन्द्र गुर्जर निवासी गॉव तेसगाव हाल इन्टर्न डॉक्टर M.B होस्पीटल उदयपुर ने हाथीपोल थाना में रिपोर्ट दर्ज करवाई की वह डॉ अनूप यादव की कार से दिलशाद भवन चेतक से MB हास्पीटल जा रहे थे, हिम्मत बालाजी मंदिर के सामने से घुमकर MB हांस्पीटल जाने के लिए आगे रोड़ पर जा रहे थे कि दो अज्ञात व्यक्ति स्कूटी पर सवार Wrong side से चलाकर आ रहे थे।  उन दोनो स्कूटी सवार को टोका की Wrong side से क्यों आ रहे हो। दोनो व्यक्ति स्कूटी लेकर चले गये वह तुरंत ही वापस घूमकर उनकी कार के आडे ( सामने आकर उन्हें रोका व कहने लगे कि तुम कौन होते हो, कहने वाले हमारी मर्जी हो उधर से जायेगे। वह दोनो कार से उतरे व उन्हें समझाया व वह अपनी कार में बैठ गये।

ड्राईवर सीट पर डा अनूप यादव बैठे हुये थे उनकी तरफ का आधा काँच खुला हुआ था कि स्कूटी पर पीछे बैठे व्यक्ति ने धारदार हथियार निकाल डॉ अनूप के ऊपर वार किया जिस पर डा. अनूप के दाहिने बाजु पर गंभीर घाव आ गया व दुबारा वार किया तो डां अनूप ने बचाव के लिए दाहिना हाथ आगे किया तो उनके हाथ कि हथेली में गंभीर घाव आ गया व खून बहने लगें उसके बाद दूसरी तरफ भी आये लेकिन एक तरफ का कांच बंद होने से काँच पर छूरी मारी लेकिन काँच नही टुटने से उनको कोई चोट नहीं लगी। 

उसके बाद दोनो कार से M.B. Hospital Udaipur के Emeyency Ward में पहुंचे व ईलाज के लिए डॉ अनूप को Surgical ICU में भर्ती करवाया। उनके गम्भीर घाव आने से अभी भी ICU में भर्ती हो कर इलाज चल रहा है 

इस पर पुलिस ने धारा 126(2), 115(2), 118(2) 3 ( 5 ) BNS मे दर्ज कर अनुसंधान शुरू किया। पुलिस ने डॉक्टर पर जान लेवा हमला करने वाले आरोपी की पहचान व तलाश कर गिरफ्तार करने के प्रयास शुरू किए।

थानाधिकारी आदर्श कुमार द्वारा टीम का गठन किया गया। मामले में घटना स्थल एवं आस पास लगे सीसीटीवी कैमरों को बारिकी से देखा गया। इसके अलावा इस वारदात करने वाले चालान शुदा अपराधियों की गतिविधियों पर नजर रखी गई एवं मुखबिर तंत्र सक्रिय किया जाकर उदयपुर शहर के सभी पुलिस के सोशल मिडिया पर फुटेज भेजे गये, जिस पर इस  वारदात को अंजाम देने में दो संदिग्ध लडके 1- मोहम्मद अमान उर्फ लक्की उर्फ माया 2- मोहम्मद साहील रजा उर्फ मुर्गा वारदात के बाद अपने ठिकाने से फरार होना पाया गया।

जिस पर उक्त दोनों संदिग्ध लडकों की सरगर्मी से तलाश की गई। दौराने तलाश उक्त दोनों संदिग्ध की अजमेर एवं चितौडगढ की तरफ भागने के फिराक मे देबारी की पहाडियों में छिपे होने की सुचना मिली जिस पर त्वरित कार्यवाही करते हुए उन दोनो संदिग्ध को पकडने पुलिस टीम भेजी गई जिसे देख कर दोनो संदिग्ध मोहम्मद साहील रजा उर्फ मुर्गा व मोहम्मद अमान उर्फ लक्की उर्फ माया पहाडियों में भागने लगे जिनका पीछा कर पकड़ा गया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal