लॉकडाउन में मां-बेटे लापता

लॉकडाउन में मां-बेटे लापता

आखिरी लॉकेशन उदयपुर में मिली थी

 
लॉकडाउन में मां-बेटे लापता

बहला-फुसलाकर ले जाने की आशंका

उदयपुर। कोरोना में हर तरफ महामारी का दौर चल रहा है सब लॉकडाउन है और इस प्रकार अचानक माँ बेटे के लापता होने से परिजनों की सांसें फूलने लगी है। भीलवाड़ा जिले के बनेड़ा के रहने वाले पिंकी के पति दशरथ सिंह राठौड़ का कहना है कि 27 अप्रैल को उसकी पत्नी छोटे भाई की शादी में शामिल होने के लिए चित्तौडग़ढ़ जिले के बस्सी रवाना हुई। शादी के बाद आखिर बार उसके पति से 4 मई को बात हुई। इसके बाद से ही मां-बेटे लापता है।

मां का नाम पिंकी कुंवर है जो करीब 35 साल की है जबकि बेटा करीब 13 साल का बताया जा रहा है। महिला के पति दशरथ सिंह ने बताया कि उदयपुर में एक नंबर से बात होना बताया जा रहा है जिसको पुलिस ने पूछताछ कि तो वो किसी ऑटो वाले का नंबर मिला। उदयपुर रोडवेज बस स्टेंड पर ऑटो वाले का मोबाइल मांगकर पिंकी ने बात की। 

पिंकी के बारे में बताए तो हुलिया दुबला पतला शरीर, राजपूती सूट पहने और बेटे अक्षय राज ने काले रंग का पेंट शर्ट पहन रखा है। उसका हुलिया गोरा है। जिस किसी को भी मां-बेटे के बारे में कोई सुराग मिले तो दशरथ सिंह के मोबाइल नंबर 9529359699 (९५२९३५९६९९) पर संपर्क कर सकते है।

बहला-फुसलाकर ले जाने की आशंका

दशरथ सिंह ने बताया कि ऑटो वाले से फोन मांगकर पिंकी ने बात की। ऑटो वाले ने बताया कि वो रोडवेज बस स्टैंड पर दिखी थी और उसने फोन करने के लिए मोबाइल मांगा था। हाथ में सूटकेस और कपड़े भी घर से जो पहनकर निकली थी वो बदले हुए थे। दशरथ सिंह ने बताया कि उसको कोई बहला-फुसलाकर ले गया है। उसके पिछे किसी शातिर दिमाग का हाथ हो सकता है। इस मामले को लेकर बस्सी थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट परिवारजनों ने दर्ज करवाई है। पुलिस इस मामले में जांच कर रही है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal