निम्बाहेड़ा से गुमशुदा दो नाबालिक बच्चों को पंजाब पुलिस के सहयोग से अमृतसर (पंजाब) से किया डिटेन

निम्बाहेड़ा से गुमशुदा दो नाबालिक बच्चों को पंजाब पुलिस के सहयोग से अमृतसर (पंजाब) से किया डिटेन

 
rajasthan police

चित्तौड़गढ़, 07 May 2023

कोतवाली निम्बाहेड़ा थाना पुलिस ने 28 अप्रैल को निम्बाहेड़ा कस्बे से गुमशुदा हुए दो नाबालिग बच्चों को पंजाब पुलिस से सहयोग से अमृतसर से डिटेन कर काउंसलिंग के बाद माता पिता को सिपुर्द किया।  माता पिता की डांट के कारण अपना फोन बंद कर ट्रैन पकड़ पंजाब चले गए थे।

पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यंत ने बताया कि 28 अप्रैल को निम्बाहेड़ा कस्बे से दो नाबालिग बच्चों की गुमशुदगी पर थाना कोतवाली निम्बाहेड़ा पर दर्ज प्रकरण के मामले में थानाधिकारी फूलचन्द टेलर पु.नि. द्वारा जांच अधिकारी सूरज कुमार स.उ.नि. मय जाब्ता हैडकानि. राजकुमार साइबर सेल, कानिस्टेबल नानुराम, सुमित कुमार, झाबरमल, रणजीत व जगदीश की टीम गठित की गई।

टीम द्वारा आसूचना संकलन व तकनिकी सहायता प्राप्त की गई। मामले में दोनों नाबालिक बच्चों की तलाश हेतु पुलिस टीम पंजाब के लुधियाना पहुंच पंजाब पुलिस का सहयोग लेकर नाबालिक बच्चों की संदिग्ध ठिकानों, गुरूद्वारा/मस्जिद/मन्दिर, होटलों, धर्मशालाओं आदि स्थानो पर लगातार 3-4 दिन तक तलाश की। 

तलाशी के दौरान अमृतसर एवं लुधियाना पुलिस के सहयोग से दोनों बच्चों को अमृतसर से डिटेन किया गया। 

पुछताछ पर सामने आया कि बच्चों को माता पिता द्वारा किसी बात को लेकर डांटने कारण से दोनों बच्चे अपने फोन स्वीच ऑफ कर घर से ट्रेन में बेठकर पंजाब चले गये।

दोनों बच्चों को पुलिस टीम ने साथ लाकर बाल कल्याण समिति चित्तौडगढ के समक्ष पेश किया गया। जहां से दोनों बच्चों को बाद काउन्सलिंग के उनके माता पिता को सिपूर्द किया गया है। प्रकरण में विस्तृत अनुसंधान जारी है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal