पेपर लीक मामला- आरोपी पटवारी का खुलासा, 8 लाख में ख़रीदा था पेपर

पेपर लीक मामला- आरोपी पटवारी का खुलासा, 8 लाख में ख़रीदा था पेपर

पूर्व में भी नक़ल करवाने के 4 मामले दर्ज है आरोपी पर

 
arrest

उदयपुर 1 मार्च 2023 । थर्ड ग्रेड टीचर भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में पुलिस ने कल  जालौर निवासी गम्मा राम विश्नोई नामक पटवारी को पूर्व में  गिरफ्तार मास्टरमाइंड भूपेंद्र सारण और उसके एक साथी राजीव उपाध्याय की रिमांड अवधि के दौरान की गई पूछताछ के आधार पर किया था। 

पुलिस की पूछताछ में पटवारी गम्मा राम विश्नोई ने बड़े खुलासे किये है। गम्मा राम विश्नोई ने बताया कि उसने मास्टर माइंड भूपेंद्र सारण से आठ लाख में पेपर ख़रीदा था। वहीँ पुलिस की छानबीन में सामने आया कि विश्नोई राजस्थान की सबसे बड़ी नक़ल गनग जगदीश जानी गैंग से जुड़ा हुआ है। 33 वर्षीय गम्मा राम विश्नोई के ऊपर 2015 में नक़ल के चार मुकदमे दर्ज है और चारो मामले अदालत में विचाराधीन है। 

पुलिस का कहना है कि मास्टरमाइंड भूपेंद्र सारण की गिरफ्तारी के बाद अब इस मामले में कड़ी से कड़ी जुड़ती जा रही है और पुलिस को और भी बड़े खुलासे होने की उम्मीद है। गौरतलब है कि 24 फरवरी को एटीएस, एसओजी और उदयपुर की डीएसपी पुलिस की टीम ने पेपर लीक मामले के मास्टरमाइंड भूपेंद्र सारण को बेंगलुरु इंटरनेशनल एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया था और उसको उदयपुर लाया गया था। 

पूछताछ के दौरान उसने कुछ और लोगों की के नाम पुलिस को बताए थे जिसके आधार पर पुलिस अभी तक दो और नए लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है, भारत और उसके अन्य साथी राजीव उपाध्याय को पुलिस ने सोमवार को कोर्ट के समक्ष पेश किया था जहां से उनको पुलिस कस्टडी रिमांड पर भेज दिया गया है। 

 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal

From around the web