सराफा व्यवसाई के साथ हुई लाखो की लूट मामले में पुलिस को सफलता

सराफा व्यवसाई के साथ हुई लाखो की लूट मामले में पुलिस को सफलता

5 को गिरफ्तार कर लूट का माल बरामद किया 

 
arrest

उदयपुर 29 जनवरी 2024 । शहर के प्रताप नगर थाना क्षैत्र में सराफा व्यवसाई के साथ हुई लाखो की लूट मामले में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने लूट मामले में 72घंटे में खुलासा करते हुए पांच अभियुक्त को गिरफ्तार कर करीब 20 लाख रुपए के आभूषण जब्त किए है। 

एसपी भुवन भूषण ने पत्रकार वार्ता में बताया कि  प्रार्थी बाबू लाल पुत्र चतराजी डांगी निवासी पुरिया गांवला तहसील गिर्वा उदयपुर ने रिपोर्ट दी की जिंक चोराहा स्थित मेरी दुकान मातेश्वरी ज्वैलर्स से दुकान में रखी ज्वैलरी को साथ लेकर घर जा रहा था। रास्ते में गोवला पुरिया गाव में जाने वाले रोड पर पीछे से मोटर साईकिल सवार तीन व्यक्ति आये जिन्होने मुझे चाकू दिखाकर डराया तथा करीब 20 लाख के जेवरात लूट कर ले गये। 

loot

वारदात के बाद पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच शुरु कर दी। जिस पर लोकेश दादरवाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर उदयपुर, शिप्रा राजावत पुलिस उप अधीक्षक वृत नगर पूर्व उदयपुर के सुपरविजन में  हिमांशु सिह पुलिस निरीक्षक द्वारा थाना प्रतापनगर की टीम गठित कर तलाश प्रारम्भ की गई।  

सूचना तंत्र के माध्यम से सूचना सकलित की तो देबारी क्षेत्र में कुछ संदिग्ध युवकों के आवागमन की सूचना प्राप्त हुई। प्राप्त सूचना के आधार पर हिमांशु सिंह थानाधिकारी को उक्त हुलिये के युवकों के बड़ी सादड़ी होने की जानकारी प्राप्त हुई। जिस पर हिमांशु सिह थानाधिकारी मय टीम पर्वतसिंह, जगदीश मेनारिया, राजूराम, अचलाराम, विरेन्द्र के साथ बडी सादडी पहुंचे तथा मुल्जिमान की तलाश प्रारम्भ की गई।

जहां पर घटना में संलिप्त तीनों अभियुक्त 1 अर्जुन चौहान पिता कैलाश चौहान निवासी आजाद नगर हिरणमगरी सेक्टर 3 थाना हिरणमगरी उदयपुर, कमलेश मेघवाल उर्फ कम्मु पिता रूप लाल मेघवाल उम्र 19 साल निवासी रोमाल थाना सलुम्बर जिला उदयपुर राज हाल चोधरीयो का मोहल्ला दरोली थाना डबोक उदयपुर राजू तथा रितिक उर्फ रोहित पिता नारायण लाल हरिजन उम्र 24 वर्ष पेशा हाउस कीपिंग मोटर्स निवासी दरौली थाना डबोक जिला उदयपुर को डिटेन कर पूछताछ की गई तो तीनों ने घटना करना स्वीकार किया। 

तीनो को गिरफतार कर पूछताछ की तो पता चला कि लूटे गये माल में से सोने का कुछ माल दिलीप सिंह तवर उर्फ दिषु उर्फ दिपक पिता मनोहर सिंह तंवर निवासी दर्जीयो के नोहरे के पास बड़ी सादडी थाना जिला चितोडगढ़ को दे दिया। चांदी के सभी आर्टिकल सुनिल सोनी पिता राधेश्याम सोनी निवासी लोहारों की गली बड़ीसादड़ी जिला चितोडगढ़ की मिलीभगत से चांदी को गलाकर सिल्लियां बना दी। आभूषण गलाने के उपकरण तथा सिल्लियां व शेष आर्टिकल जब्त किये गये। सभी पांचो अभियुक्तो को गिरफतार किया जाकर लूटा गया सम्पूर्ण माल सोना चांदी अभियुक्तो से बरामद कर लिया गया है।

पूछताछ में सामने आया है कि अभियुक्त अर्जुन चौहान, कमलेश मेघवाल उर्फ कम्मू तथा रितिक उर्फ रोहित घटना से करीब 10 दिन पूर्व से प्रार्थी बाबूलाल डांगी की दुकान की रैकी कर रहे थे। अभियुक्तों को यह पता चल गया था कि प्रतिदिन शाम को बाबूलाल डांगी अपनी दुकान से शाम को सोना चांदी को थैले में रखकर अपने साथ घर लेकर जाता था तथा अगले दिन सुबह वापस लेकर आता था। अभियुक्तों ने प्रार्थी को दुकान से निकलते ही पीछा किया तथा रास्ते में सुनसान स्थान पर प्रार्थी का माल लूट कर फरार हो गये।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal