Upset over not getting compensation and job, the accused had placed explosives on Oda Bridge

मुआवज़ा और नौकरी नहीं मिलने से खफा आरोपी ने रखा था ओड़ा ब्रिज पर एक्सप्लोसिव

मुआवज़ा और नौकरी नहीं मिलने से खफा आरोपी ने रखा था ओड़ा ब्रिज पर एक्सप्लोसिव

आरोपियों में एक बाल अपचारी भी शामिल

 
Udaipur SOG ATS Team Arrest 3 people in connection with Udaipur Rail track Blast at Odha Near Udaipur Kewda ki Naal

एटीएस एवं एसओजी, राजस्थान, जयपुर द्वारा ओड़ा पुल पर हुई ब्लास्ट की घटना का खुलासा कर लिया गया है। इस घटना को अंजाम 2 आरोपियों और एक बाल अपचारी द्वारा दिया गया था। 

एटीएस एवं एसओजी, राजस्थान, जयपुर ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि आरोपियों की पहचान धूलचंद मीणा निवासी एकलिंगपुरा थाना जावर माइंस उम्र लगभग 32 वर्ष, प्रकाश मीणा, उम्र लगभग 18 वर्ष और एक बाल अपचारी निवासी एकलिंगपुरा हैं।

दरअसल 1974-75 और 1980 में धूलचंद मीणा की जमीन रेलवे और हिंदुस्तान जिंक द्वारा अवाप्त की गई थी, जिसके लिए उसको मुआवजा या नौकरी नहीं मिली है। इसके लिए यह लगातार कई साल से प्रयासरत था, लेकिन कहीं से भी कोई मदद नहीं मिलने के कारण इसने गुस्से में इस घटना को अंजाम दिया।

घटना के दिन प्रकाश द्वारा बाइक चलाई गई तथा बाल अपचारी उनके साथ था। ट्रेन जाने के बाद उन्होंने दोनों ने ट्रैक्स पर बमनुमा बंडल को रखा और ऊपर ही रख कर आग लगायी।

धूलचंद की जमीन का मुआवजा न मिलने के कारण उसके मन में रोष था तथा इसी कारण उसने इस घटना को अंजाम दिया है। तीनों आरोपियों को पुलिस द्वारा डिटेन कर लिया गया है।

इसके अतिरिक्त इन्होंने अंकुश सुवालका से ये एक्सप्लोसिव्स खरीदे थे, जिसे भी डिटेन कर लिया गया है। पूरी टीम ने इसे चेलेंज के रूप में लेकर बहुत मेहनत की है।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on  GoogleNews | WhatsApp | Telegram | Signal

From around the web