हैड कांस्टेबल के खिलाफ दुष्कर्म का मामला, धोखे से शादी और मारपीट करने जैसे गंभीर आरोप

हैड कांस्टेबल के खिलाफ दुष्कर्म का मामला, धोखे से शादी और मारपीट करने जैसे गंभीर आरोप

हैड कांस्टेबल बोला-आईफोन नहीं दिलाया तो पत्नी ने कराया अबॉर्शन

 
crime

उदयपुर 24 जुलाई 2023 । शहर के सविना थाने में एक महिला ने ज़िले के एक थाने मे तैनात हैड कांस्टेबल के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है, जिसमें महिला ने बताया कि उसे पहली पत्नी से तलाक बताकर धोखे से आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली, महिला ने शादी के बाद मारपीट करने और मारपीट से पेट में चोट के कारण उसका 3 माह का गर्भ गिरने का भी आरोप लगाया है, महिला ने खुद की बहन और उसके बहनोई पर भी हैड कांस्टेबल द्वारा जातिगत गालियां देने जैसे आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दी है।

वहीं दूसरी ओर , मामले को लेकर हैड कांस्टेबल का कहना है कि उसे साजिश के तहत फंसाया जा रहा है, उसका कहना है की उसने अपनी पहली पत्नी के बारे में बताकर ही दूसरी शादी की, पत्नी द्वारा बार बार पैसे की मांग पर अब तक उसे करीब 2 लाख रुपए से ज्यादा का ट्रांजेक्शन कर चुका हूं, उसका कहना है की पत्नी द्वारा 1.48 लाख रूपए का आई फोन मांगा गया था मना करने पर नाराज होकर पत्नी ने अबार्शन करवा लिया, और जब वह उसे उदयपुर से सलूम्बर ले जाने लगा तो अन्य किसी कांस्टेबल के कहने पर उसके खिलाफ मामला दर्ज करवा दिया।

हैड कांस्टेबल का कहना है को उसकी पत्नी उसके मित्र ज़िले के अन्य थाने के कांस्टेबल के साथ मिलकर उसे फंसाना चाहती है, इसी के चलते 3 दिन पहले पत्नी को उदयपुर से सलूम्बर ले जाते समय पत्नी के मित्र ने उसकी गाडी का पीछा किया, उसने कई बार रोड पर उसकी गाडी के सामने खुद की गाडी लाने की कोशिश की। जिससे में बचते हुए वहां से निकला, फिर उसने जावरमाइंस थाने में घटना को लेकर मामला दर्ज कराया। 

ख़ास बात यह है की हैड कांस्टेबल पर आरोप लगाने वाले पत्नी की माता भी दामाद के साथ है और उसका बचाव करते हुए कहा कि उनकी बेटी ने झूठे आरोप लगाए हैं, दामाद ऐसा नहीं है, बेटी ने फतहनगर कांस्टेबल के साथ मिलकर ये षडयंत्र रचा है, करीब 7 साल से वह उसके सम्पर्क में थी, इस मामले में हम एसपी से मिलकर कार्रवाई की मांग करेंगे।

प्रार्थी महिला ने हैड कांस्टेबल के आरोपों पर कहा कि उसने मुझसे तीसरी शादी की है और इसके पहले की दो शादियों के बारे में कुछ भी जानकारी नहीं थी, जोधपुर में कोर्ट मैरिज के बाद पता चला। वह अपराधियों की तरह मुझे मारता था, मैं कांस्टेबल को भाई मानती हूं, उसने मुझे पहले समझाया था कि हैड कांस्टेबल ठीक नहीं है , मैं बच्चे को जन्म देना चाहती थी लेकिन मुझे पीटे जाने की वजह से पेट में पल रहे बच्चे को चोट लगी, जिसे वह गर्भ में ही मर गया। उसने कहा की सभी तरह के आरोप झूठे हैं, पैसे मांगे और महिला द्वारा आई फोन मांगे की बात भी झूठी है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal