धानमंडी क्षेत्र में छात्र ने घर में लगाईं फांसी

धानमंडी क्षेत्र में छात्र ने घर में लगाईं फांसी 

छात्र की माँ ने स्कूल के सीनियर छात्रों पर लगाए आरोप

 
student died

उदयपुर 7 फ़रवरी 2024। शहर के धानमंडी थाना क्षेत्र में रहने वाले एक 11वी क्लास के छात्र ने उसके के घर में फांसी लगाकर अपने जीवन लीला को समाप्त कर लिया। घटना मंगलवार रात की बताई जा रही है, घटना की जानकारी मिलने पर धानमंडी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवाया गया जिसका पोस्टमार्टम बुधवार दोपहर को कराकर उसके शव को उसके घर वालों को सौंप दिया गया।

लेकिन इस घटना को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे हैं और मृतक छात्र की मां ने स्कूल के आठ बच्चो पर गंभीर आरोप लगाए और उन्हें उसके बच्चे की मृत्यु का जिम्मेदार भी ठहराया है।

मृतक की मां का आरोप है उसे पिछले कुछ समय से उसी की क्लास में पढ़ने वाले आठ बच्चों की एक गैंग द्वारा लगातार परेशान किया जा रहा था उसकी रैगिंग की जा रही थी और इसी के चलते उसने यह बड़ा कदम उठाया, यही नहीं उसकी मां ने इन सभी बच्चों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग भी की है और इसी को लेकर उदयपुर ज़िला कलेक्टर अरविंद पोसवाल को इस घटना के विरुद्ध ज्ञापन सौंप कर घटना की निष्पक्ष जांच कर आरोपियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाने की मांग की है।

मृतक की मां का कहना है कि रैगिंग और परेशान करने की बात तब सामने आई जब एक दिन पूर्व मंगलवार को उसके बेटे के स्कूल से उसे फोन आया और उसके बच्चे के स्कूल नहीं आने की बात पूछी गई। यह बात सुनकर वह घबरा उठी उसने बताया कि उसका लड़का तो रोज सुबह हमेशा की तरह स्कूल जाने के लिए निकलता है और घर पर आकर पढ़ाई और होमवर्क भी बराबर कर रहा है ऐसे में एक महीने से वह स्कूल नहीं जाए ऐसी कोई भी बात की जानकारी उसके पास नहीं थी।

मृतक की मां चंदा देवी का कहना है कि जब उसने अपने बेटे से इस बारे में पूछा तो उसने बताया कि उसकी क्लास में पढ़ने वाले कुछ छात्र उसे पिछले कुछ समय से परेशान कर रहे हैं उसके साथ मारपीट करना उसकी रैगिंग लेना और और उसको आपत्तिजनक कॉमेंट करने जैसी हरकतें की जा रही है जिससे घबराकर वह स्कूल नहीं जा रहा था। 

चंदा ने बताया कि वह आज बुधवार को अपने बच्चों के स्कूल में टीचर से मुलाकात करने के लिए जाने वाली थी लेकिन उससे पहले ही उसके बच्चे ने बड़ा कदम उठाया और अपने जीवन लीला को समाप्त कर लिया। मृतक की मां ने स्कूल प्रशासन पर भी गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि जब पिछले एक महीने से उसका बच्चा स्कूल नहीं जा रहा था तो स्कूल प्रशासन ने उन्हें पहले क्यों नहीं जानकारी दी अगर वह पहले जानकारी देते तो शायद वह अपने बच्चों की जिंदगी को बचा पाती।

चंदा का कहना है कि वह अपने पति से अलग रहती है उसके दो बच्चे हैं और छोटा वाला लड़का भी उसी स्कूल में ही पढता है अब बड़े बच्चे की मृत्यु के बाद पूरे घर में शोक का माहौल है और अब उसकी सारी उम्मीदें टूट चुकी है। चंदा का कहना है कि सभी आरोपी छात्रों से कड़ी पूछताछ की जाए और आरोपी साबित होने पर उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई भी की जाए।

प्रिंसिपल ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि सभी जगह सीसीटीवी लगे, कोई परेशान नहीं कर सकता

स्कूल प्रिंसिपल ने बताया कि हमारे स्कूल में रैगिंग जैसा मामला कभी नहीं हो सकता। हमारे स्कूल में सभी जगह सीसीटीवी लगे हैं अगर स्कूल में उसे कोई परेशान करता हो हमें पता लग जाता। एक माह से वह स्कूल नहीं आ रहा था तो हमने उसकी मां को फोन करवाया। सुसाइड करने वाले बच्चे की यूनिफार्म, बुक्स और अन्य सामग्री मैंने ही फ्री करवाई थी। 

मामले की जांच में जुटी पुलिस

धानमंडी थानाधिकारी सुबोध जांगिड़ ने बताया कि मृतक बच्चे की माता ने बच्चे के सुसाइड को लेकर मुकदमा दर्ज कराया है जिसमें बीएन स्कूल में उनके बेटे को कुछ छात्रों द्वारा टॉर्चर करने और रैगिंग लिए जाने का आरोप लगाया है। मामले की जांच कर रहे हैं। स्कूल प्रबंधन से पूछताछ करेंगे।
 

मामले की जांच में जुटी पुलिस

धानमंडी थानाधिकारी सुबोध जांगिड़ ने बताया कि मृतक बच्चे की माता ने बच्चे के सुसाइड को लेकर मुकदमा दर्ज कराया है जिसमें बीएन स्कूल में उनके बेटे को कुछ छात्रों द्वारा टॉर्चर करने और रैगिंग लिए जाने का आरोप लगाया है। मामले की जांच कर रहे हैं। स्कूल प्रबंधन से पूछताछ करेंगे।


 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal