तंत्र मंत्र से लोगों का इलाज करने के नाम पर ठगने वाला आरोपी गिरफ्तार

तंत्र मंत्र से लोगों का इलाज करने के नाम पर ठगने वाला आरोपी गिरफ्तार 
 

 
Tantrik arrested

उदयपुर, 12 फरवरी 2024। ज़िले की प्रताप नगर थाना पुलिस ने कूद को तांत्रिक बताकर बीमार व भोले-भाले लोगों को तत्रं विद्या एवं टोने टोटके से ईलाज कर सही करने का झांसा देकर रूपये एवं सोने चांदी के जेवरात हड़प कर धोखाधडी करनेवाले एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। 

प्रार्थी भंवरलाल भाटी निवासी त्रिपुरा विहार न्यू आशापुरा कॉलोनी बेडवास उदयपुर ने रिपोर्ट पेश की थी कि उसकी बेटी के बीमार होने की सूचना मिलने पर मैं उसे ससुराल से घर लाया। इस दौरान उसकी मुलाकात एक व्यक्ति जिसका नाम रूपेश सुथार था से हुई। जो कि खुद को तंत्र मंत्र व जादू टोने का अच्छा जानकार बताता है। उसने बेटी का तत्रं विद्या से ईलाज करना बताया। तत्रं विद्या से ईलाज के लिए वह उसके घर बेडवास में आया और उसकी बेटी को देखकर कहने लगा कि इसको किसी बुरी प्रेत आत्मा ने अपने वश में किया हुआ है, अगर इसका समय पर ईलाज नहीं कराया तो यह आपके हाथ से निकल जायेगी। इसलिये मैं जो आपको कहता हूँ वह आपको करना पडेगा। उसने प्रार्थी को कहा की वह उसके पुरे परिवार व उसके  घर का शुद्धिकरण करेगा । जिसके खर्च के लिये 11,111 रूपये देने होंगे ।

उस पर विश्वास कर पीड़ित ने उसे पैसे दे दिये। फिर उसने कहा कि बेटी के जो सोने चांदी के आभूषण है जब तक उनका शुद्धिकरण नहीं हो जाता तब तक यह तंत्र मंत्र सफल नहीं होगा। उसकी बातों का विश्वास कर मैने उसे मेरी पुत्री के सोने चांदी के आभूषण दे दिये और वह अपने साथ आभूषण यह कहकर लेकर गया की वो उन आभुषणों की पुजा कर वापस उसको एक महीने बाद दे देगा । फिर उसने घर के शुद्धिकरण के लिये 51000 रूपये व घर में रखे समस्त सोने चांदी के आभूषण ओर ले लिए। 

कुछ दिनो बाद पुनः पीड़ित के पास आया और 7000 रूपये और मांगे। जिस पर उसके बेटे द्वारा उसको 7000 रूपये दिए गये एक महीने बाद जब उन्होंने उसे फोन किया तो उसने हमसे कुछ दिनों का समय मांगा और टालमटोल करता रहा। 

जिस पर वो  उसके घर पर गया तो वह घर पर नहीं मिला। बहुत समय बाद जब उससे सम्पर्क हो पाया एवं पीड़ित ने  उससे उसके द्वारा दिये गये सोने के जेवरात करीब 19 तोला, चांदी के जेवरात करीब 400 ग्राम एवं 70000 रूपये की मांग की तो टालमटोल करने लगा और अभी तक कर रहा है। वगैरा रिपोर्ट पर प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान प्रारम्भ किया गया ।

उदयपुर एसपी भुवन भूषण यादव ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए थानाधिकारी प्रतापनगर हिमांशु सिंह राजावत को इस मामले की निष्पक्ष जाँच करने और आरोपी को गिरफ्तार करनेक के निर्देश दिए।  इस पर कार्यवाही को एडिशनल एसपी शहर लोकेन्द्र दादरवाल के सुपरविजन में अंजाम दिया गया।  

आरोपी की  तलाशी के दौरान ज्ञात आया कि आरोपी ने शहर में ओर भी लोगो के साथ में तंत्र विद्या के नाम पर ठगी की घटनाएं कर रखी है जो अपनी सकुनत से फरार है। पुलिस टीम द्वारा अपने खुफियां तंत्र की मदद से आरोपी रूपेश सुथार को डिटेन कर पूछताछ की गई तो उसके द्वारा प्रार्थी की बेटी  का तंत्र विद्या के द्वारा ईलाज करने के नाम पर रूपये एवं सोने चांदी के जेवरात हडप धोखाधडी करना पाया गया। इस पर अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया। जिससे रूपये एवं सोने चांदी के जेवरात के संबंध में अनुसंधान जारी है।

आरोपी के विरूद्ध पुलिस थाना हिरणमगरी पर पूर्व में भी 2 आपराधिक मामले दर्ज होने से थाना हिरणमगरी पर भी वह  वांछित था। जिसकी सूचना थाना हिरणमगरी पर दी गई।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal