एकलिंगजी में चोरों का धावा 12 तोला सोना व नगद रुपये लेकर हुए फरार


एकलिंगजी में चोरों का धावा 12 तोला सोना व नगद रुपये लेकर हुए फरार

चोरी की घटना से ग्रामीणों में आक्रोश

 
theft
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर।  जिला मुख्यालय के 18 किलोमीटर दूरी पर स्थित देवभूमि एकलिंग जी मे चोरों ने बोला धावा 2 जुलाई 2023 मध्य रात्रि करीब सवा बारह बजे 6 से 7 में लोगों ने अलग-अलग मकानों में प्रवेश कर चोरी की घटना को अंजाम दिया  

रोशन लाल माली पुत्र डालचंद माली के घर में 3 चोरो ने प्रवेश किया। रोशन लाल माली की पत्नी के चोरो के देखकर चिल्लाने से रोशन लाल माली व उसका पुत्र के उठने पर तीनों चोर मुख्य मार्ग से भागने लगे। आवाज होने के कारण पड़ोस में भी कुछ लोग जगे। रोशन लाल, उसके बेटे व अन्य 2, 3 पड़ोसियों ने मिलकर चोरों का पीछा किया।  इसी दौरान चोर मोटरसाइकिल से भाग रहे चोरो की मोटरसाइकिल वही छूट गई।  

तो वही तीन अन्य चोर मोहल्ले के पंकज वैष्णव पिता घनश्याम दास वैष्णव के घर पर चोरी को अंजाम देने में लगे हुए थे इन तीनों चोर के आने पर वह भी वहां से एक खिड़की तोड़ करीब 45000 की नगद राशि लेकर अलग-अलग मोटरसाइकिल से भागने लगे। इसी दौरान एक मोटरसाइकिल स्लिप होने से अन्य वाहन के सहारे फरार हो गए।  

पीड़ित ने बताया कि हम सभी परिवार जनों को कमरों में बंद कर अलमारी का ताला खोल उसमें पड़े करीब 12 तोला सोने से बने गहने जिसमें नेकलेस, टीका, मंगलसूत्र, सोने की चूड़ियां, दो सोने की चैन, कान के झुमके, पायल व पंद्रह सौ ग्राम चांदी आदि ले जाने में सफल हो गए। 

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि एक वैन गाड़ी वहां पर घूमती हुई दिखी जिसके दोनों और के दरवाजे खुले हुई थे चोरों ने भागने के लिए स्थानीय लोगों की मोटरसाइकिल चोरी कर उस पर सवार होकर भागे। 

इसकी सूचना पुलिस को दी जिसके बाद सुखेर थाने से पेट्रोलिंग गाड़ी वहां पहुंची तब तक चोर एक मोटरसाइकिल व अन्य अपने किसी वाहन में बैठकर फरार हो गए। उन्होंने हाफ पेंट जैसा पहन रखा था, दिखने में काले सावले रंग के लग रहे थे। लंबे अरसे बाद इस देवनगरी में मेन बस्ती के बीचोबीच चोरों ने इस घटना को अंजाम दिया। 

ग्रामीण लोग पुलिस चौकी पर भी गए थे लेकिन वहां पर कोई नहीं मिला इसको लेकर भी ग्रामीणों ने नाराजगी व्यक्त की और कहा कि कैलाशपुरी एक धार्मिक व पर्यटन नगरी है पूर्व में भी यहां से पर्यटक की एक गाड़ी चोरों द्वारा चुरा ली गई थी। हालांकि पुलिस की सतर्कता ने उस पर्यटक को अपनी गाड़ी वापस दिलवाई लेकिन पिछले कुछ समय से व्यवस्थाएं बिगड़ी हुई है।  

ग्रामीणों ने कहा कि कैलाशपुरी चौकी का लंबा सर्कल होते हुए भी वहां पर जाब्ता नहीं मिलता है। पहले हमारी गलियों में पुलिस द्वारा गश्त लगाई जाती थी जो कि एक लंबे अरसे बाद नहीं हो रही है। उसी का नतीजा रहा कि चोर चोरी कर भागने में सफल हो जाते हैं उन्हें पुलिस का किसी तरह का कोई डर व भय नहीं रहा।  

ग्रामीणों ने प्रशासन से मांग की है कि शीघ्र ही चोरों को पकड़ा जाए अन्यथा इस पर ग्रामीण अपना कड़ा रुख अपनाने को मजबूर होंगे एवं देवभूमि को बदनाम नहीं होने दिया जाएगा। इस चोरी की घटना को लेकर ग्रामीणों में भारी आक्रोश व्याप्त है उन्होंने कहा कि चोरी पर अगर अंकुश नहीं लगा तो हमारे यहां आने वाले पर्यटक व दर्शनार्थी भी अपने आप को असुरक्षित महसूस करेंगे। 
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal