धानमंडी की डेयरी के वायरल विडियो का सच आया सामने, पुलिस ने 12 घंटों के भीतर किया खुलासा

धानमंडी की डेयरी के वायरल विडियो का सच आया सामने, पुलिस ने 12 घंटों के भीतर किया खुलासा

डेयरी पर घी लेने आया व्यक्ति निकला बाल अपचारी, रिवाल्वर जैसा दिखने वाला हथियार निकला एयर गन, नहीं था किसी को डराने का इरादा, ये तो था महज एक्ट ऑफ़ इनोसेंस

 
truth

दोस्त से मांग कर लाया था एयरगन

उदयपुर में सोमवार रात डेयरी पर घी लेने गए व्यक्ति का रिवाल्वर के साथ वायरल हुए विडियो में पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए मामले का 12 घंटों से भी कम समय में खुलासा कर दिया। 

दरअसल पिछले दिनों टेलर कन्हैया लाल साहू की हत्या के बाद लोगो में संवेदनशीलता बनी हुई है और इस घटना को लेकर भी अलग-अलग कयास लगाए जा रहे थे, इसी को ध्यान में रखते हुए घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस एक्शन में आई और रात भर सी.सी.टीवी में दिख रहे व्यक्ति की तलाश कर सुबह इस मामले का खुलासा कर दिया। 

हालाँकि तब तक इस घटना का सी.सी.टीवी विडियो काफी वायरल हो चूका था। पुलिस जाँच में चोकाने वाली बातें समाने आई.दरअसल विडियो में दिख रहा व्यक्ति एक बाल अपचारी है और उसके पास दिख रही रिवाल्वर दरअसल एक एयरगन है। 

मामले का खुलासा करते हुए उदयपुर एसपी विकास कुमार शर्मा ने बताया की विडियो में दिख रहा व्यक्ति एक बाल अपचारी है जो गुजरात का रहने वाला है, रक्षा बंधन के त्यौहार पर वो अपने घर वालों के साथ अपनी मौसी के घर धानमंडी आया था, अपने ट्यूशन पर साथ पड़ने वाले एक दोस्त से वो उसकी एयरगन भी लाया था, जिसका इस्तमाल वो फोटो खीचने के लिए करने वाला था। 

सोमवार रात को धानमंडी क्षेत्र में ही बनी एक डेयरी पर वो अपने मौसी के लड़के के साथ घी लेने गया था। दुकान पर पहुचने पर उसका भाई दूकान के बाहर ही रुक गया और वो घी लेने के लिए दूकान के अंदर चला गया। जेब में रखी एयर गन की वजह से थोड़ी दिक्कत हुने पर पहले उसने उसे री-एडजस्ट किया और फिर जेब से निकाल कर घी वाले बेग में डाल दिया। 

डेयरी मालिक द्वारा उसे असली रिवाल्वर समझ कर पुलिस को इसकी सुचना दी गई और पुलिस द्वारा मामला दर्ज कर विडियो में दिख रहे व्यक्ति की तलाश शुरू की गई। 

मामले की जाँच में किसी को डराने-धमकाने जेसे कोई बात सामने नहीं आई है, दरअसल जो रिवाल्वर जेसी चीज उसके पास मिली है वो एक एयर गन है और उसको अपने जेब में रखकर दुकान पर आना लड़के का महज एक ‘एक्ट ऑफ़ इनोसेंस है’ (ACT OF INNOCENCE) है। दोनों ही व्यक्ति एक ही समाज के हैं, और इस घटना के पीछे कोई और गंभीर वजह नहीं है। 

एसपी ने कहा की इस घटना की निष्पक्ष जाँच और घटना के खुलासे में उदयपुर के धानमंडी थानाधिकारी गोपाल चंदेल और उनकी टीम तथा डीएसटी की टीम का विशेष योगदान रहा जिन्होंने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर ठाकुर चन्द्रशील एवं पुलिस उप अधीक्षक तपेन्द्र मीणा के सुपरविजन में अंजाम दिया। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal