सरकारी स्कूलों में निःशुल्क पाठ्यपुस्तकों का वितरण

सरकारी स्कूलों में निःशुल्क पाठ्यपुस्तकों का वितरण

पाठ्यपुस्तक मण्डल द्वारा अब तक 9 लाख से अधिक पुस्तके वितरित की जा चुकी है।  

 
निशुल्क पुस्तके वितरण

राजस्थान राज्य पाठ्यपुस्तक मण्डल वितरण केंद्र की ओर से हर साल ज़िले के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को सही तरह की पाठ्यपुस्तकों का निशुल्क वितरण किया जाता है। पाठ्यपुस्तक मण्डल ने नए शैक्षिक सत्र 2023-24 के लिए राजकीय विद्यालयों व मदरसों में कक्षा 1 से 12वी तक अध्यनरत बालक-बालिकाओ के लिए नि:शुल्क पाठ्यपुस्तकों का वितरण शुरू किया गया है। पाठ्यपुस्तक मण्डल वितरण केंद्र से प्राप्त हुई जानकारी के अनुसार उदयपुर ज़िले में कुल 18 लाख 34 हजार 115 पुस्तके वितरित की जाना बताया गया है। जिसमे से करीब 9 लाख 61 हजार 42 वितरित की जा चुकी है।

14 ब्लॉक्स में पाठ्यपुस्तक वितरित की जा चुकी है -

उदयपुर में कुल 20 ब्लॉक्स है और इसमें से 14 ब्लॉक्स में पाठ्यपुस्तकों का वितरण हो चूका है।  वहीं अब ये पुस्तके पंचायत स्तर तक पहुंची है और फिर स्कूलों व विद्यार्थियों तक पहुंचाई जाएगी।

उदयपुर में पाठ्य पुस्तकों का वितरण दो चरणों में किया जाता है-

पहला चरण 23 मई से शुरू कर दिया गया था और अब तक 9 लाख से अधिक पुस्तके वितरित की जा चुकी है।  पाठ्यपुस्तक वितरण का यह कार्य 22 जून तक जारी रहेगा।  इसके बाद जुलाई  में दुसरे चरण में पुस्तकों का वितरण शुरू किया जाएगा।  

इस तरह पुस्तके बांटी जाएगी-

  • कक्षा 1 व 2 में पाठ्यक्रम पूरा बादला है। तो सभी पुस्तके नयी दी जाएगी । 

  • कक्षा 3 में पाठ्यक्रम पूरा नही बदला है। फिर भी सभी विद्यार्थियों को नयी पुस्तके ही वितरित की जाएगी। 

  • कक्षा 4 से 12वी  तक आधी पुस्तके पुरानी व आधी नयी दी जाएगी। 

  • कक्षा 1 से 8वी तक के सभी विद्यार्थियों को पुस्तके दी जाएगी। 

  • कक्षा 9 से 12वि तक सभी छात्राओं,अनुसूचित जाती,जनजाति के छात्राओं तथा जिन विद्यार्थियों के माता-पिता आयकरदाता नही है, उनको निशुल्क पुस्तके बांटी जाएगी। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal