मैन्युफैक्चरिंग व कृषि सेक्टर में आईटी के योगदान को बढ़ाना होगा -प्रो. गौरव बल्लभ

मैन्युफैक्चरिंग व कृषि सेक्टर में आईटी के योगदान को बढ़ाना होगा -प्रो. गौरव बल्लभ

गीतांजलि कॉलेज ऑफ साइंस एंड कॉमर्स के बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन के शैक्षणिक सत्र 2023-24 के नव आगंतुक विद्यार्थियों के लिए कार्यक्रम
 
gits

गीतांजलि कॉलेज ऑफ साइंस एंड कॉमर्स के बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन के शैक्षणिक सत्र 2023-24 के नव आगंतुक विद्यार्थियों के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया गया । इस कार्यक्रम में विद्यार्थियों के साथ साथ अभिभावकभी सम्मिलित हुए। ओरियंटेशन के इस पावन अवसर पर राजस्थान गौरव अवार्ड से सम्मानित एक्स एल आर आई के प्रोफेसर डॉ गौरव वल्लभ जी को मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था । 

प्रो. गौरव बल्लभ ने बताया कि जीडीपी में सर्विस सेक्टर का योगदान 55% प्रतिशत है , पर रोजगार में इस सेक्टर का योगदान मात्र 30 % है जबकि मैन्युफैक्चरिंग व कृषि सेक्टर का जीडीपी में योगदान क्रमसा 17 का जीडीपी में योगदान क्रमसा 17 व 28 प्रतिशत है दूसरी ओर मैन्युफैक्चरिंग व कृषि सेक्टर का कुल  रोजगार क्रमशः 15 प्रतिशत वह 55% है । देश की अर्थव्यवस्था तभी मजबूत होगी जब तीनों सेक्टर जीडीपी व रोजगार में लगभग बराबर का योगदान दें ।

जब किसी देश की इकोनॉमी बढ़ती है तो उसका फायदा देश के प्रत्येक व्यक्ति को कम या ज्यादा मिलता है।देश की अर्थव्यवस्था को बढ़ाने के लिए आपको अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी होगी। प्रो. बल्लभ ने यह भी बताया कि मैन्युफैक्चरिंग और एग्रीकल्चर सेक्टर में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग एनालिटिक्स के  एप्लीकेशन की प्रचुर संभावनाएं हैं। उन्होंने वहाँ उपस्थित सभी छात्रों को उनके उज्जवल उज्जवल भविष्य की  शुभकामनाएं दी और मनुफैचरिंग  व एग्रीकल्चर सेक्टर में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस व एनालिटिक्स का अधिक से अधिक प्रयोग करके उत्पादकता बढ़ाने के लिए छात्रों को प्रोत्साहित किया ।

इस अवसर पर गिट्स के निदेशक डॉ. एन एस राठौड़ ने आने वाले नवीन विद्यार्थियों एवं अभिभावकों का स्वागत करते हुए कहा कि गिट्स विगत 22 वर्षों से तकनीकी, विज्ञान एवं प्रबंधन के क्षेत्र में अपनी सेवाएं प्रदान करते हुए देश व समाज के निर्माण में अपनी महती भूमिका निभा रहा है और आगे भी निभाता रहेगा । यह ओरियंटेशन प्रोग्राम आपके सपनों को हकीकत में बदलने की यात्रा की शुरुआत का प्रथम एवं महत्वपूर्ण दिन है। आपने हम पर भरोसा जताया है आपके भविष्य को उज्जवल बनाने की जिम्मेदारी हमारी है । आपको आपके लक्ष्य तक पहुँचाना हमारा धर्म है। बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन अपने आप में एक संपूर्ण कोर्स है । जो किसी कारण बस बीटेक नहीं कर पाते हैं लेकिन उनमें कंप्यूटर के प्रति कुछ कर गुजरने की क्षमता होती है वह बीसीए करते हैं ।

गिट्स इंडस्ट्री रेडी ए आई रेडी स्टूडेंट तैयार करने के लिए प्रतिबद्ध है एमसीए विभागाध्यक्ष डॉ. पारस कोठारी ने आगंतुक विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि आपको अपने स्किल नॉलेज और एटीट्यूड पर काम करना होगा। आपको अपने आईटी एप्लीकेशन को  बढ़ाना होगा जिससे सफलता आपके कदम चूमे।

धन्यवाद ज्ञापन गीतांजलि कॉलेज ऑफ कॉमर्स के की प्रिंसिपल डॉ. राधा चौधरी द्वारा दिया तथा नव आगंतुक छात्रों व अभिभावको को कॉलेज के नियमो के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन विद्यार्थी देव परमार व सबा खान द्वारा किया गया। इस अवसर पर हिंदुस्तान जिंक के फॉर्मर सीईओ अखिलेश जोशी एमबीए निदेशक डॉ. पीके जैन सहित पूरा गिट्स परिवार उपस्थित था।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal