गीतांजली डेंटल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट उदयपुर ने राष्ट्रीय मैक्सफैक स्किल कोर्स का आयोजन किया


गीतांजली डेंटल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट उदयपुर ने राष्ट्रीय मैक्सफैक स्किल कोर्स का आयोजन किया

गीतांजली डेंटल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट ओरल एंड मैक्सिलोफेशियल सर्जरी विभाग

 
Geetanjali
UT WhatsApp Channel Join Now

ओरल एंड मैक्सिलोफेशियल सर्जरी विभाग, गीतांजलि डेंटल एवं रिसर्च इंस्टीट्यूट , उदयपुर ने सफलतापूर्वक राष्ट्रीय मैक्सफैक स्किल कोर्स का आयोजन किया था। इस कोर्स में पूरे भारत से 50 प्रथम वर्ष के ओरल एवं मैक्सिलोफेशियल सर्जरी पोस्टग्रेजुएट्स ने भाग लिया। 

डॉ. भगवानदास राय, अध्यक्ष एओएमएसआई और डीन, पेसिफिक डेंटल कॉलेज एवं हॉस्पिटल, उदयपुर और गीतांजली डेंटल एवं रिसर्च इंस्टीट्यूट के डीन डॉ. निखिल वर्मा ने अपनी उपस्थिति से कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई। इस कार्यक्रम के कोर्स डायरेक्टर डॉ. रमाकांत रेड्डी दुब्बुडू थे, जो एआईजी हॉस्पिटल्स, हैदराबाद में कंसल्टेंट हैं। डॉ. शालू बंसल, प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष, ओरल एवं मैक्सिलोफेशियल सर्जरी, गीतांजलि डेंटल एवं रिसर्च इंस्टीट्यूट कोर्स की संयोजक थीं।

कोर्स में ऑपरेटिंग रूम प्रोटोकॉल शामिल थे, जिसका संचालन डॉ. राघव पेंड्याला कंसल्टेंट ओरल एवं मैक्सिलोफेशियल सर्जन, रीडर, ओरल एवं मैक्सिलोफेशियल सर्जरी विभाग, एसवीएस इंस्टीट्यूट ऑफ डेंटल साइंसेज, महबूबनगर द्वारा किया गया था। आर्टिफिशियल एयरवेज, वेंटिलेशन, एंडोट्रैचियल इंटुबैशन (फाइब्रियोप्टिक इंटुबैशन सहित) डॉ. अनुज व्यास, कंसल्टेंट मैक्सिलोफेशियल सर्जन, अवंती हॉस्पिटल, उज्जैन द्वारा सिखाया गया।

ट्रेकियोस्टोमी केयर विद एन्टीरियर एंड पोस्टीरियर नेज़ल पैकिंग का संचालन डॉ. शालू बंसल, प्रोफेसर और विभागाध्यक्ष, ओरल एंड मैक्सिलोफेशियल सर्जरी गीतांजलि डेंटल एवं रिसर्च इंस्टीट्यूट, उदयपुर द्वारा किया गया।

इंजेक्शन, आईवी लाइन और ब्लड सैंपलिंग का संचालन डॉ. रमाकांत रेड्डी दुब्बुडु, कंसल्टेंट, एआईजी हॉस्पिटल्स, हैदराबाद द्वारा किया गया। सुचरिंग तकनीक का संचालन श्री अरबिंदो कॉलेज ऑफ डेंटिस्ट्री एंड पीजी इंस्टीट्यूट, इंदौर में ओरल एंड मैक्सिलोफेशियल सर्जरी विभाग की प्रोफेसर डॉ. सुष्मिता आर व्यास द्वारा किया गया।

सर्जिकल नॉट्स एंड हेमोस्टेसिस का संचालन डॉ. विवेकानंद कट्टिमनी, प्रोफेसर, ओरल एंड मैक्सिलोफेशियल सर्जरी विभाग, प्रोफेसर और प्रमुख सिबर इंस्टीट्यूट ऑफ डेंटल साइंसेज, गुंटूर, आंध्र प्रदेश द्वारा किया गया।

नासोगैस्ट्रिक ट्यूब इंसर्शन और यूरिनरी कैथीटेराइजेशन का प्रशिक्षण डॉ. वामशी कृष्ण कुमारम एस्थेटिक फेशियल सर्जन, साशा लक्स स्किन एंड कॉस्मेटिक सर्जरी सेंटर, हैदराबाद द्वारा दिया गया। सर्जिकल ड्रेन और घाव की देखभाल डॉ. खालिद मोहम्मद अगवानी, कंसल्टेंट मैक्सिलोफेशियल सर्जन और प्रोफेसर, ओरल एंड मैक्सिलोफेशियल सर्जरी विभाग, दर्शन डेंटल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, उदयपुर द्वारा की गई। कार्यशाला की इंटरैक्टिव प्रकृति ने प्रतिभागियों को प्रश्न पूछने, व्यावहारिक गतिविधियों में शामिल होने और प्रशिक्षकों से व्यक्तिगत मार्गदर्शन प्राप्त किया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal