राजस्थान सरकार के ‘‘iStart हैकथॉन-2023’’ एवं भारत सरकार के साईबर सुरक्षा हैकथॉन ‘‘कवच-2023’’ में गिट्स का प्रथम स्थान


राजस्थान सरकार के ‘‘iStart हैकथॉन-2023’’ एवं भारत सरकार के साईबर सुरक्षा हैकथॉन ‘‘कवच-2023’’ में गिट्स का प्रथम स्थान

भारत सरकार के साथ-साथ राज्य सरकारे भी विद्यार्थियों के अन्दर छुपी प्रतिभाओं को बाहर निकालने के लिए विभिन्न हैकथॉन के माध्यम से कार्यक्रम आयोजित कर रही हैं

 
kavach hackothon
UT WhatsApp Channel Join Now

गीतांजली इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्निकल स्टडीज डबोक उदयपुर (गिट्स) के मेधावी विद्यार्थियों ने भारत सरकार द्वारा आयोजित साईबर सुरक्षा हैकथॉन ‘‘कवच- 2023’’ एवं राजस्थान सरकार द्वारा आयोजित ‘‘आई. स्टार्ट हैकथॉन-2023’’ में प्रथम स्थान प्राप्त कर पूरे उदयपुर सम्भाग का नाम रोशन किया। 

देश के संरचनात्मक ढांचे के विकास में इन्जिनियर का अहम योगदान होता हैं। इन्जिनियरिंग शिक्षा के 3 प्रमुख आयाम एज्यूकेशन, इम्पलोयमेंट और अर्न्तरप्रन्योरशिप हैं। इन आयामों को आपस में तालमेल बिठाने के लिए गिट्स ने ए.आई. रेडी, इण्डिस्ट्री रेडी एवं अर्न्तरप्रन्योरशिप एवं स्टुडेंट रेडी पर लगातार काम कर रहा हैं। विद्यार्थियों को ए. आई. रेडी बनाने के लिए विद्यार्थियों को पाईथन, जावा, आर, नेचुरल लेंग्वेंज प्रोसेसिंग तथा एल.आई.एस.पी. पर एक्सपर्ट द्वारा ट्रेनिंग प्रदान की जा रही हैं। जिससे विद्यार्थी ए.आई. से कदम से कदम मिलाकर भविष्य में प्लांनिग कर सकते हैं। 

इण्डस्ट्री रेडी प्रोग्राम के तहत विद्यार्थियों को कम्पनी के वातारण से परिचित कराने के लिए 20 से ज्यादा नामी गिरामी कम्पनीयों के साथ एम.ओ.यू. किया गया हैं। जिसके द्वारा विद्यार्थियों को इण्डस्ट्री विजिट, इण्डस्ट्री एक्सपर्ट टॉेक, इण्डस्ट्री लेवल हेण्ड्स ऑन ट्रेनिंग प्रदान की जाती हैं। जिससे विद्यार्थी को होने वाले प्लेसमेंट में भी सहायता मिलती हैं।

गिट्स के विद्यार्थियों का अर्न्तरप्रन्योरशिप एवं स्टुडेंट रेडी के लिए अग्रसर करने के लिए गिट्स में सेन्टर ऑफ इनोवेशन एण्ड इन्क्यूवेशन (सी.आई.आई.) की स्थापना की गई है। जहां पर छात्रों के लिए नवाचार का काम किया जाता हैं। सी.आई.आई. द्वारा 55 विद्यार्थियों को स्टुडेंट रेडी के लिए तैयार किया गया हैं। जिसके तहत विद्यार्थियों को भविष्य में आने वाली नवीन तकनीकों पर ट्रेनिंग प्रदान की जाती हैं। ताकि नवाचार एवं रचनात्मकता द्वारा अर्न्तरप्रन्योरशिप खुद शुरू कर सकते हैं।

गिट्स संस्थान ए.आई.सी.टी.ई. आइडिया लेब के लिए चयनित हुआ हैं। विज्ञान प्रोद्योगिकी इन्जिनियरिंग के विद्यार्थियों के कल्पनाशीलता, रचनात्मकता को हकीकत में बदलेगा तथा विद्यार्थियों को रिसर्च एवं इनोवेशन की तरफ ले जायेगा।

gits

गिट्स संस्थान में विद्यार्थियों के स्टार्टअप को बिजनेस में बदलने के लिए एम.एस.एम.ई. बिजनेस इन्क्यूवेशन की स्थापना की गई हैं। जहां पर विद्यार्थियों के इनोवेटिव आइडियाज को स्टार्टअप में बदलने के साथ-साथ विद्यार्थियों के अपस्केलिंग व रिस्केलिंग की ट्रेनिंग प्रदान की जाती हैं। इस बिजनेस इन्क्यूवेशन के माध्यम से किसी व्यक्ति के अच्छे बिजनेस आइडियाज को भारत द्वारा 15 से 20 लाख तक की सहायता प्रदान की जाती हैं।

गिट्स में राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय कोटा द्वारा मान्यता प्राप्त 2 सेंटर ऑफ एक्सीलेंस लेब इण्डस्ट्रीयल ऑटोमेशन व ए.आर. वी.आर. लेब हैं। जहां पर इण्डस्ट्रीयल ऑटोमेशन प्रशिक्षण व ए.आर. वी.आर. की डिजीटल दुनियां से विद्यार्थियों को रूबरू कराया जाता हैं। इसके साथ ही तीसरी लेब अल्ट्राटेक सीमेंट कम्पनी के सहयोग से सस्टेनेबल बिल्डींग मेटेरियल लेब तैयार किया हैं। जिसमें विद्यार्थी आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर में प्रयोग होने वाले विभिन्न सिमेंट आधारित मेटेरियल के बारे में जानकारी प्रदान करता हैं।

हमारा देश विकास के पथ पर निरंतर तेजी से अग्रसर हैं। देश के इस विकास में विद्यार्थियों एवं युवाओं का अहम योगदान हैं। भारत सरकार के साथ-साथ राज्य सरकारे भी विद्यार्थियों के अन्दर छुपी प्रतिभाओं को बाहर निकालने के लिए विभिन्न हैकथॉन के माध्यम से कार्यक्रम आयोजित कर रही हैं। 

गीतांजली इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्निकल स्टडीज डबोक उदयपुर (गिट्स) के मेधावी विद्यार्थियों ने भारत सरकार द्वारा आयोजित साईबर सुरक्षा हैकथॉन ‘‘कवच- 2023’’ एवं राजस्थान सरकार द्वारा आयोजित ‘‘आई. स्टार्ट हैकथॉन-2023’’ में प्रथम स्थान प्राप्त कर पूरे उदयपुर सम्भाग का नाम रोशन किया। 

संस्थान के निदेशक डॉ. एन. एस. राठौड ने बताया कि हैकथॉन भारत सरकार एवं राज्य सरकारों द्वारा आयोजित एक राष्ट्रव्यापी पहल हैं। जो दैनिक जीवन में आने वाली समस्याओं के साथ-साथ सरकारी व गैर सरकारी तंत्र के समस्याओं का नवाचार के माध्यम से सस्ता एवं सुलभ समाधान प्रदान करता हैं। इसी के तहत राजस्थान सरकार द्वारा संचालित आई स्टार्ट आइडिया थॉन सुखाडिया विश्वविद्यालय उदयपुर में आयोजित किया गया जिसमें उदयपुर सम्भाग के प्रमुख महाविद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने भाग लिया जिसमें गिट्स छात्र हर्षित बोराना, चार्वी बापना, पार्थ शर्मा, शिवम् मिश्रा और नितिन पुरोहित ने अपने नवाचार आइडिया के माध्यम से टीमों 350 को पछाडते हुए पूरे उदयपुर सम्भाग में प्रथम स्थान प्राप्त कर रूपये 50,000/- का पुरस्कार प्राप्त किये। छात्रों द्वारा बनाया गया यह प्रोजेक्ट उदयपुर के झीलों में जलकुम्भीयों एवं प्लास्टिक कचरे की सफाई कम से कम लागत में करेगा।

gits

भारत सरकार के अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् नई दिल्ली, पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरों तथा भारतीय साईबर अपराध समन्वय ग्रेड के संयुक्त तत्वाधान में ग्रेटर नोयडा स्थित इन्जिनियरिंग कॉलेज जी.एल. बजाज इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एण्ड मेनेजमेंट में 8 से 10 अगस्त तक कवच 2023 का आयोजन किया गया। 36 घण्टे तक चलने वाले इस साईबर सुरक्षा हैकथॉन में पश्चिमी बंगाल, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, पंजाब व राजस्थान आदि प्रदेशों की टीमों ने भाग लिया। जिसमें गिट्स के मेधावी छात्र रिषभ डांगी, मयंक पालीवाल, सुजल सोनी, विशाल सिंह, शालीनी जोशी एवं दिव्यांशी श्रीमाली की टीम ने प्रथम स्थान प्राप्त कर रूपये 1,20,000/- का पुरस्कार प्राप्त किया। 

छात्रों द्वारा बनाया गया यह प्रोजेक्ट झूठे व गलत मेसेज को पहचान कर सम्बन्धित अधिकारी को अवगत करायेगा, जिससे सम्बन्धित अधिकारी उचित कार्यवाही कर सकेगा। इसी हैकथॉन में विद्यार्थी कुशल शर्मा, आदित्य कुमार, जानवी कुमावत, भव्यराज सिंह, मुग्ध माथुर एवं रिंकु कुमार राव ने पुलिस ट्रेसिंग डिवाईस बनाकर द्वितीय स्थान पर रहे। यह प्रोजेक्ट पुलिस कर्मियों को उनकी ड्यूटी के दौरान उनकों ट्रेस करेगा। 

विद्यार्थियों के इस अभूतपूर्व सफलता पर वित्त नियंत्रक बी.एल. जांगिड सहित पूरे गिट्स परिवार ने स्नेहिल शुभकामनाएं प्रेषित की हैं। 
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal