गिट्स में टिचिंग इन द डिजीटल एरा- टूल्स एण्ड ट्रेण्ड्स पर फेकल्टी डवलपमेंट प्रोग्राम

गिट्स में टिचिंग इन द डिजीटल एरा- टूल्स एण्ड ट्रेण्ड्स पर फेकल्टी डवलपमेंट प्रोग्राम 

'टेक्नोलाॅजी एक प्रगतिशील क्षेत्र हैं'- डाॅ. एन. एस. राठौड

 
gits

उदयपुर के गीतांजली इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्निकल स्टडीज में सी.डी.सी. विभाग के तत्वाधान में ‘टिचिंग इन द डिजीटल इरा- टूल्स एण्ड ट्रेण्ड्स’ पर फेकल्टी डवलपमेंट प्रोग्राम का आयोजन किया गया। जिसमें फेकल्टी मेम्बर्स ने आने वाली शिक्षण कार्यो में होने वाली तब्दीली व उनकी चुनौतियों का सामना कैसे किया जाये उस पर ज्ञान अर्जित किया।

संस्थान के निदेशक डाॅ. एन. एस. राठौड ने बताया कि टेक्नोलाॅजी एक प्रगतिशील क्षेत्र हैं। आज के समय और मांग के अनुसार टेक्नोलोजी दिन प्रतिदिन आधुनिक होती जा रही हैं। शिक्षण कार्य भी इसे अछुता नहीं हैं। शिक्षा के क्षेत्र में टेक्नोलाॅजी की स्वीकृति और इम्पलीमेंटेशन में अभूतपूर्व बदलाव देखे गये हैं। शिक्षण कार्य में डिजीटल टेक्नोलोजी के महत्व को देखते हुए इस फेकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का आयोजन किया गया।

जिसमें मुख्य व्यक्ता के रूप में इन्टरनेशनल बिजनेस स्कूल की असोसिएट प्रोफेसर डाॅ. पल्लवी मित्तल ने भाग लिया। जहां पर डाॅ. मित्तल ने फेकल्टी मेम्बर्स को पेडागोजी, एन्ड्रोगोजी एवं एज्यूकेशन 4.0 के बारे में बताते हुए कहा कि पारम्परिक शिक्षण कार्य के तरीके को छोडकर हमें आधुनिक शिक्षण प्रणाली को अपनाना होगा। हमें ऑनलाइन व ऑफ़लाइन शिक्षण के दोनों तरीकों पर ध्यान देना होगा, तभी हम समय के साथ कदम से कदम मिलाकर चल पायेंगे। 

धन्यवाद ज्ञापन ट्रेनिंग एण्ड प्लेसमेंट हेड अरविन्द सिंह पेमावत द्वारा तथा संचालन असिस्टेंट प्रोफेसर शैलजा राणावत द्वारा किया गया।



 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal