गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए प्रशिक्षकों के मानसिक स्वास्थ्य को प्राथमिकता

गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए प्रशिक्षकों के मानसिक स्वास्थ्य को प्राथमिकता

कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य शिक्षकों, शिक्षक प्रशिक्षकों और शिक्षा अधिकारियों को सकारात्मक, खुश और उद्देश्यपूर्ण होने के लिए अभ्यासों और रणनीतियों के माध्यम से सहयोग करना है, क्योंकि खुश शिक्षक ही बना पाएंगे सीखने सिखाने का एक खुशनुमा वातावरण।

 
priyanka jodhavat teachers training hausla mental psychological health udaipur news

राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वन सम्बन्धी प्रयासों की कड़ी में शिक्षकों और प्रशिक्षकों के मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य को सुदृढ़ बनाने की पहल राजस्थान राज्य शैक्षिक अनुसन्धान एवं प्रशिक्षण परिषद् की निदेशक प्रियंका जोधावत द्वारा आज हौसला कार्यक्रम के माध्यम से की गयी यह कार्यक्रम राजस्थान राज्य शैक्षिक अनुसन्धान एवं प्रक्षिशण परिषद् और क्षमतालय फाउंडेशन के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया जा रहा है जो अगले 21 दिनों तक चलेगा।

इस 21 दिवसीयहौसला कार्यक्रमका विमोचन प्रदेश के 33 DIET के समस्त संकाय सदस्यों के साथ दिनांक 8 सितम्बर और 9 सितम्बर को ज़ूम के माध्यम से किया गया, जिसमे RSCERT के निदेशक प्रियंका जोधावत, संयुक्त निदेशक शिव जी गौड़एसोसिएट प्रोफेसर कमलेन्द्र सिंह और असिस्टेंट प्रोफेसर शशिबाला ने प्रत्येक समूह में जुड़कर समस्त संभागियों को कार्यक्रम से जुड़ने का प्रोत्साहन और सकारात्मक समायोजन के प्रति मार्गदर्शन दिया। यह कार्यक्रम तीन हफ़्तों का है जो आत्म विश्वास और जागरूकता, भावनात्मक जागरूकता एवं नियंत्रण, और अंतरनिर्भरता एवं पारस्परिक सम्बन्ध इन तीन पहलुओं पर आधारित हैं

priyanka jodhavat teachers training hausla mental psychological health udaipur news

कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य शिक्षकों, शिक्षक प्रशिक्षकों और शिक्षा अधिकारियों को सकारात्मक, खुश और उद्देश्यपूर्ण होने के लिए अभ्यासों और रणनीतियों के माध्यम से सहयोग करना है, क्योंकि खुश शिक्षक ही बना पाएंगे सीखने सिखाने का एक खुशनुमा वातावरण।

निदेशक प्रियंका जोधावत ने संभागियों को इस कार्यक्रम से जुड़ने की बधाई दी उनके द्वारा की गयी ये पहल महामारी के कारण बढे तनाव में शिक्षा विभाग में कार्यरत सभी संकाय सदस्यों के मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने के उद्देश्य से ली गयी है उनके अनुसार इस दौर में शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी अप्रत्याशित रूप से बढ़ गयी है, ऐसी जटिल परिस्थितियों में स्वयं  का ध्यान रखना और भी अधिक आवश्यक हो गया है. इस कार्यक्रम का आयोजन DIET संकाय सदस्यों के लिए किया जा रहा है जिससे शिक्षा प्रणाली में शिक्षकों और कक्षाकक्षों तक सकारात्मकता प्रेषित की जा सके उन्होंने इसकी महत्ता को समझते हुए मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य को राजस्तरीय प्राथमिकता दिए जाने का आश्वासन दिया।

priyanka jodhavat teachers training hausla mental psychological health udaipur news

अतिरिक्त निदेशक माननीय शिव जी गौड़ ने सभी संभागियों को अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखते हुए कार्यक्रम से जुड़ने की शुभकामनायें दीं और उन्होंने कहाइस कार्यक्रम के माध्यम से सभी संभागियों को खुद के विषय में और अधिक गहराई से जानने का अवसर मिलेगा

कार्यक्रम के दौरान एसोसिएट प्रोफेसर कमलेंद्र ने सभी समूहों में शामिल होकर DIET के संकाय सदस्यों को प्रेरणा दी किअपने मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए सकारात्मक मानसिकता को विकसित करना आवश्यक है जो अपने सम्पर्क में आने वाले लोगों को सकारात्मक ऊर्जा का संचार और अपने कार्य में भी गुणवत्ता लाने में सहायक है कार्यक्रम के माध्यम से सभी संभागी अपने व्यक्तित्व में निखार ला सकते हैं जो आपके स्वयं के जीवन और शिक्षा प्रणाली दोनों में गुणवत्ता लाने में सहयोग करेगा

कार्यक्रम का सञ्चालन क्षमतालय फाउंडेशन के सदस्यों  अंजलि गुप्ते, पूजा सिंह, विवेक कुमार, सौम्या भास्कराचार्या, राहुल रविशंकर और पल्लवी माहेश्वरी द्वारा सभी संकाय सदस्यों को 8 ग्रुप्स में विभाजित करके किया जा रहा है दिनांक 8 सितम्बर को 25 DIET के संकाय सदस्यों  और दिनांक 9 सितम्बर को 8 DIET के संकाय सदस्यों ने कार्यक्रम के विमोचन में भाग लिया। कार्यक्रम के 21 दिनों के दौरान 2 साप्ताहिक चेक इन और 1 समापन समारोह होगा। 

कार्यक्रम का समापन क्षमतालय फाउंडेशन द्वारा निदेशक प्रियंका जोधावत और अतिरिक्त निदेशक शिव जी गौड़ की अध्यक्ष्ता और एसोसिएट प्रोफेसर कमलेन्द्र सिंह एवं असिस्टेंट प्रोफेसर शशिबाला की उपस्थिति में दिनांक 6 अक्टूबर को रखा जायेगा।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal