IIMU का 8वां वार्षिक दीक्षांत समारोह, 275 विद्यार्थियों ने वर्चुअल तरीके से हासिल की डिग्री

IIMU का 8वां वार्षिक दीक्षांत समारोह, 275 विद्यार्थियों ने वर्चुअल तरीके से हासिल की डिग्री

आईआईएम उदयपुर ने अपने दो साल के एमबीए (बैच 2018-20) और एक वर्षीय एमबीए ग्लोबल सप्लाई चेन मैनेजमेंट (बैच 2019-20) के लिए आयोजित किया आठवां वार्षिक दीक्षांत समारोह 

 
IIM Udaipur

आठवां वार्षिक दीक्षांत समारोह वर्ष 2020 में आयोजित किया जाना था, लेकिन कोविड-19 से उपजे हालात के कारण करना पड़ा था स्थगित। कोविड से पैदा हुए प्रतिकूल हालात को देखते हुए शनिवार को वर्चुअल मोड में आयोजित किया गया दीक्षांत समारोह।

संजय डावर, मैनेजिंग डायरेक्टर और लीड्स फॉर एक्सेंचर स्ट्रैटेजी ने मुख्य अतिथि के तौर पर बढ़ाई कार्यक्रम की गरिमा

उदयपुर 4 मई, 2021। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट, उदयपुर ने अपने दो साल के एमबीए (बैच 2018-20) और एक वर्षीय एमबीए ग्लोबल सप्लाई चेन मैनेजमेंट (बैच 2019-20) के लिए आठवां वार्षिक दीक्षांत समारोह आयोजित किया। पहले यह समारोह पिछले साल 30 मार्च को आयोजित किया जाना था, लेकिन कोविड से उपजे हालात और प्रतिबंधों के कारण दीक्षांत समारोह पहली बार वर्चुअल मोड में आयोजित किया गया। इस दौरान 275 छात्रों को एमबीए की डिग्री प्रदान की गई। 

जाइडस कैडिला के चेयरमैन और एमडी और बोर्ड ऑफ गवर्नर्स, आईआईएम उदयपुर के चेयरमैन पंकज पटेल ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। इस कार्यक्रम में शामिल होने वाले लोगों में आईआईएम उदयपुर के डायरेक्टर प्रो. जनत शाह, एक वर्षीय एमबीए प्रोग्राम कमेटी के चेयरपर्सन प्रो. राजेश अग्रवाल और दो वर्षीय एमबीए प्रोग्राम कमेटी की चेयरपर्सन प्रो. संध्या भाटिया प्रमुख हैं। एक्सेेंचर स्ट्रेटेजी के मैनेजिंग डायरेक्टर और लीड्स संजय डावर इस समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए।

बोर्ड ऑफ गवर्नर्स, आईआईएम उदयपुर के अन्य सदस्य, एक वर्षीय एमबीए प्रोग्राम के सलाहकार समूह के सदस्य, आईआईएम उदयपुर के संकाय सदस्य और कर्मचारी, पूर्व छात्र और स्नातक छात्र भी अपने परिवार के सदस्यों के साथ इस प्रोग्राम के लाइव वेबकास्ट के साक्षी बने।

आईआईएम उदयपुर के दो साल के एमबीए (बैच 2018-20) और एक वर्षीय एमबीए ग्लोबल सप्लाई चेन मैनेजमेंट (बैच 2019-20) के कुल 275 छात्रों ने एमबीए की डिग्री हासिल की।

मुख्य अतिथि के रूप में एक्सेेंचर स्ट्रेटेजी के मैनेजिंग डायरेक्टर और लीड्स संजय डावर ने ‘फाइव फंडामेंटल्स’ पर आधारित अपने भाषण में स्नातक छात्रों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘जैसे-जैसे आप अपने कॅरियर को आगे बढ़ाते हैं, आपको अपने कॅरियर में संतुलन लाने के बारे में सोचना चाहिए। पिछले 12 महीनों के दौरान हमने जो शोध किया है, उसके आधार पर कहा जा सकता है कि जो कंपनियां 2020 से पहले ही डिजिटल हो गईं, उन्होंने अपने प्रतिस्पर्धियों की तुलना में महत्वपूर्ण बाजार हिस्सेदारी हासिल की है। वर्तमान कारोबारी परिदृश्य में जब टैक्नोलाॅजी और सस्टेनबिलिटी क्वोशंट की बात आती है, तो एक उभरते हुए प्रबंधक के रूप में आपको डिजिटल रूप से अधिक समझदार होने की आवश्यकता है।’’

अपने स्वागत भाषण में आईआईएम उदयपुर के चेयरमैन श्री पंकज पटेल ने कहा, ‘‘आज के दीक्षांत समारोह के बहाने हमें आईआईएम, उदयपुर की हालिया उपलब्धियों का जश्न मनाने का एक शानदार अवसर मिला है। अभूतपूर्व वैश्विक महामारी के प्रकोप के साथ पिछले 12 महीने आईआईएम उदयपुर के लिए सबसे चुनौतीपूर्ण रहे हैं, हालाँकि यह चुनौतीपूर्ण दौर भी हमें अपनी उम्मीदों और अपनी महत्वाकांक्षा को हासिल करने से नहीं रोक पाया है। 2030 तक विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त प्रबंधन संस्थान बनने के मकसद के साथ हमने एक ऐसी संस्कृति बनाई है जो साथ मिलकर आगे बढ़ने को महत्व देती है। 

आईआईएम, उदयपुर में हम सिर्फ यही नहीं चाहते कि हमारे छात्र बदलाव की तैयारी करें, बल्कि हम चाहते हैं कि वे परिवर्तन का स्वागत करें। इस मौके पर मैं उन सभी छात्रों को बधाई देता हूं, जिन्होंने एमबीए की डिग्री हासिल की है।’’

अपने समापन संबोधन में आईआईएम, उदयपुर के निदेशक प्रो. जनत शाह ने कहा, ‘‘आज का मेरा संदेश संभवतः उस बात से बहुत भिन्न नहीं है, जो मैं मार्च 2020 में होने वाले कार्यक्रम में कहता। लेकिन परिसर से दूर रहने की स्थिति और पिछले पूरे साल हम सबने जिन चुनौतियों का सामना किया है, उनसे शायद आपको मेरे संदेश का अधिक महत्व समझ में आएगा। आज आईआईएमयू की विरासत को बरकरार रखते हुए आपको यह सुनिश्चित करना है कि भविष्य में आने वाले बैच भी कैम्पस में अपने अनुभवों के दौरान उसी परिवर्तनकारी यात्रा का अनुभव करें।’’

समारोह में देवाशीष तरफदार को ग्लोबल सप्लाई चेन मैनेजमेंट (जीएससीएम) में एक साल के एमबीएम कोर्स में शानदार शैक्षिक प्रदर्शन के लिए स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया। दो वर्षीय एमबीए कोर्स में शैक्षिक प्रदर्शन के लिए सिम्हाद्री सिद्धार्थ, शाह यश, वैष्णवी आनंद को गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया। दो वर्षीय एमबीए (बैच 2018-20) पाठ्यक्रम में अलीजा शेख को बेस्ट ऑल राउंड स्टूडेंट चुना गया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal