दो वर्ष बाद 28-29 जुलाई को आयोजित होगा हरियाली अमावस्या मेला


दो वर्ष बाद 28-29 जुलाई को आयोजित होगा हरियाली अमावस्या मेला

निगम ने शुरू की तैयारी

 
Hariyali Amavasya Mela
UT WhatsApp Channel Join Now

झूले एवं स्टॉल हेतु खुली नीलामी 25 एवं 26 को

उदयपुर 23 जुलाई 2022 । उदयपुर का विश्व प्रसिद्ध हरियाली अमावस्या का मेला 2 साल बाद फिर से फतह सागर पाल, सहेलियों की बाड़ी पर नगर निगम द्वारा आयोजित किया जाएगा । पूर्व की भांति इस वर्ष भी यह मेला दो दिवसीय होगा, जिसमें दूसरे दिन केवल महिलाओं का प्रवेश होगा। 

नगर निगम सांस्कृतिक समिति अध्यक्षा चंद्रकला बोल्या ने बताया कि प्रतिवर्ष लगने वाला विश्व प्रसिद्ध हरियाली अमावस्या का मेला पिछले 2 सालों से कोरोना महामारी के कारण नगर निगम द्वारा आयोजित नहीं किया जा रहा था। इस वर्ष राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन से अनुमति मिलने के पश्चात 28 एवं 29 जुलाई को मेला आयोजित किया जाएगा। मेले को नगर निगम द्वारा पूरी तरह व्यवस्थित रूप से आयोजित किया जाएगा। 2 वर्षों से कोरोना महामारी के कारण मेला आयोजित नहीं होने से इस वर्ष शहरवासियों में इस मेले को लेकर काफी उत्साह है।

दुकानों झूलों के स्थान की नीलामी होंगी जल्द

नगर निगम राजस्व समिति अध्यक्ष अरविंद जारोली ने बताया की हरियाली अमावस्या मेले में अस्थाई रूप से नगर निगम द्वारा चिन्हित स्थान पर झूले एवं स्टॉल हेतु खुली नीलामी 25 एवं 26 जुलाई को मेला स्थल सहेलियों की बाडी पर आयोजित की जावेगी। कोई भी इच्छुक व्यक्ति नीलामी में भाग ले सकते है। नीलामी में भाग लेने वाले व्यक्ति अपना पहचान पत्र (आधार कार्ड, पेन कार्ड) साथ में आवश्यक रूप से लेकर आवे। निगम द्वारा एक व्यक्ति को दो स्टॉल से ज्यादा स्टॉल आवंटित नही की जायेगी।

महापौर उपमहापौर करेंगे मेला स्थल का निरीक्षण

नगर निगम उप महापौर पारस सिंघवी ने बताया कि 2 वर्ष पश्चात लगने वाले प्रसिद्ध हरियाली अमावस्या मेले स्थल का जायजा नगर निगम महापौर गोविंद सिंह टांक द्वारा लिया जाएगा। मेला स्थल पर सभी माकूल व्यवस्था उपलब्ध हो ऐसी कार्यवाही करने के निर्देश भी महापौर द्वारा जारी किए गए है। मेले की तैयारी को लेकर ही महापौर टांक, उपमहापौर सिंघवी ने शुक्रवार को सांस्कृतिक समिति अध्यक्षा चंद्रकला बोलियां एवं राजस्व समिति अध्यक्ष अरविंद जरौली के साथ बैठक का आयोजन किया। 

महापौर टांक ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि मेले के आयोजन में किसी भी प्रकार की कोई भी लापरवाही नहीं रहे इसका विशेष रुप से ध्यान रखा जाए। मेला संपूर्ण होने तक उपमहापौर पारस सिंघवी द्वारा प्रतिदिन मेला कार्य की प्रगति रिपोर्ट जांची जायेगी।


 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal