2 नवंबर से होगा दीपावली मेले का आगाज

2 नवंबर से होगा दीपावली मेले का आगाज

निगम आयुक्त ने लिया व्यवस्थाओं का जायजा, अधिकारियों को दिए दिशा निर्देश

 
Diwali mela from 19th October to 2nd November

उदयपुर। नगर निगम उदयपुर द्वारा आयोजित दीपावली मेले का रंगारंग आगाज 2 नवंबर से होगा। नगर निगम आयुक्त वासुदेव मालावत स्वयं ने शनिवार को मेला स्थल का निरीक्षण कर की जा रही तैयारी का जायजा लिया। 
 नगर निगम आयुक्त वासुदेव मालावत ने बताया कि प्रसिद्ध दीपावली मेला 2 नवंबर गुरुवार से नगर निगम प्रांगण में आयोजित किया जाएगा जिसके लिए तैयारियां प्रारंभ हो चुकी है। मेले में सुरक्षा और मनोरंजन को लेकर किसी भी तरह की कोई कमी ना रहे इसका विशेष ध्यान रखा जाएगा।

उदयपुर कि जनता के लिए दीपावली के दौरान आयोजित किया जाने वाला यह मेला पूरी तरह रोमांचित एवं मनोरंजन पूर्ण रहे इसकी पूरी कोशिश की जा रही है। वृहद स्तर पर इसकी तैयारियां की जा रही है। मेले में प्रथम दो दिन संगीत व नृत्य की प्रस्तुतियों के लिए कई शहरवासियों ने आवेदन किया था जिसमे से स्तरीय कलाकारों का चयन किया जा रहा है। मोहनलाल सुखाड़िया रंगमंच पर स्थानीय कलाकारों की चयन प्रक्रिया शुरू हो चुकी हैं। चयनित प्रतिभागी सांस्कृतिक कार्यक्रमों में उदयपुर की जनता का अपनी उच्च स्तर की प्रस्तुतियो से मन मोह लेंगे। रविवार को निगम प्रांगण में प्रस्तुति देने वाले सभी प्रतिभागियों से अभ्यास करवाया जाएगा और अच्छा प्रदर्शन कर सके इसके लिए प्रेरित किया जाएगा। 

24 घंटे अग्नि, विद्युत और स्वास्थ कर्मचारी देंगे ड्यूटी

शनिवार को मेले की तैयारी का जायजा नगर निगम आयुक्त मालावत द्वारा लिया गया। मालावत ने दोपहर से देर सायं तक निगम एससी मुकेश पुजारी,  राजस्व अधिकारी नितेश भटनागर, राजस्व निरीक्षक विजय जैन, स्वास्थ्य अधिकारी सत्यनारायण शर्मा, अधीक्षण अभियंता विद्युत रितेश पाटीदार, फायर ऑफिसर शिवराम मीणा के साथ विद्युत व्यवस्था, बेरीकेडिंग, टेंट, बैठक व्यवस्था, दर्शक दीर्घा, मेलार्थियों के प्रवेश एवं निकासी आदि व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। सभी अधिकारियों को निगमायुक्त ने आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

सुरक्षा एवं मनोरंजन को लेकर किसी भी प्रकार की कमी नहीं रखने के विशेष निर्देश दिए हैं। 24 घंटे आपातकाल में विद्युत, सफाई एवं फायर सेफ्टी के कर्मचारी नगर निगम में अपनी सेवाएं देंगे जिससे किसी भी प्रकार के हादसे को तुरंत काबू में किया जा सके। इस बार मेले में आगंतुकों के निकासी हेतु दो अतिरिक्त दरवाजे और खोलने के निर्देश दिए हैं जिससे भीड़ के समय आसानी से बाहर की तरफ निकला जा सके। आयुक्त ने आचार संहिता की पालना में किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरतने के निर्देश भी दिए। आर्दश आचार संहिता की पालना करते हुए सभी कार्यक्रम संपन्न किए जाएंगे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal