स्व. खेमराज कटारा की मूर्ति का अनावरण 12 जून को सीएम के हाथो होगा

स्व. खेमराज कटारा की मूर्ति का अनावरण 12 जून को सीएम के हाथो होगा 

यह कार्यक्रम खेमराज कटारा सेटेलाईट हॉस्पीटल में होगा

 
खेमराज कटारा की मूर्ति के अनावरण के क्रम

स्व. खेमराज कटारा के मूर्ति अनावरण के क्रम में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा पूर्व मंत्री आदिवासीयों के मसीहा स्व. खेमराज कटारा की मूर्ति का अनावरण का कार्यक्रम खेमराज कटारा सेटेलाईट हॉस्पीटल में दिनांक 12 जून2023 को प्रस्तावित हैं।

इस मौके पर एआईसीसी सदस्य विवेक कटारा ने कहा की इस सम्बन्ध में विपक्ष पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा विरोध किया गया। इस सम्बन्ध में बताना चाहते है कि इससे पूर्व में कई मंत्रियो, मुख्यमंत्रियो और जनसेवकों की मूर्तियों का अनावरण किया जा चूका हैं।

कटारा ने कहा की जब जनहित में इस अस्पताल की नीवं रखी गई थी तब भी इन्ही लोगों ने मुख्यमंत्री को काले झण्डे दिखाये थे। कटारा ने कहा की उदयपुर में भी विपक्ष द्वारा सरकारी खर्चे पर सुन्दर सिंह भण्डारी की मूर्ति गोवर्धन सागर पर एवं दीनदयाल पार्क दुधतलाई में दीनदयाल की मूर्ति का अनावरण किया जा चूका हैं। लेकिन कांग्रेस पार्टी एवं कार्यकर्ताओं द्वारा कभी विरोध प्रर्दशन नही किया क्यूंकि किसी भी पार्टी का महापुरूष से कुछ ना कुछ आने वाली पीढ़ी सीखती हैं और यही अपनी संस्कृति का हिस्सा हैं। यह कि इन लोगो के पास राज्य में कोई मुद्दा नही होने से ये लोग उदयपुर शहर में अशान्ती फैलाना चाहते हैं। उन्होंनेआरोप लगाते हुए कहा की ये लोग आदिवासी, पिछड़ों और दलित विरोधी हैं देश में नई संसद भवन उद्घाटन में महामहिम राष्ट्रपति को आमन्त्रित नही करना ये बताता हैं।

उन्होंने कहा की इनका ये विरोध करना व्यक्ति विशेष के लिये नही बल्कि पुरी आदिवासी कौम के साथ कुठाराघात करना हैं। जो महगांई राहत कैम्प में जाकर विरोध कर रहे हैं। इनका उद्देश्य यही हैं कि कोई भी वही लोग है जनहित का कार्य नही किये जाये। जानकारी के लिये बताना चाहते है कि कोराना के समय इसी अस्पताल में हजारों लोगो की जान बचाई गई।

इस मौके पर पूर्व विधायक सजन कटारा, कांग्रेस देहात ज़िला के निर्वार्तमान अध्यक्ष लाल सिंह झाला एवं अन्य कांग्रेस पार्टी के नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे।

 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal