लेकसिटी में कला-साहित्य का लघु कुंभ ‘मेवाड़ टॉक फेस्ट‘ 30 से

लेकसिटी में कला-साहित्य का लघु कुंभ ‘मेवाड़ टॉक फेस्ट‘ 30 से

पुस्तक-प्रदर्शनी का रहेगा आकर्षण

 
mewar talk fest

उदयपुर, 27 मार्च  2024। मेवाड़वासियों को कला व साहित्य जगत की हस्तियों से रूबरू करवाने और स्तरीय साहित्य का रसास्वादन कराने के उद्देश्य से कला-साहित्य का दो दिवसीय लघु कुंभ मेवाड़ टॉक फेस्ट 30 मार्च से लेकसिटी में आयोजित होगा। इस महोत्सव को लेकर युवाओं में बड़ा उत्साह दिखाई दे रहा है। आयोजकों द्वारा भी इस महोत्सव में साहित्यप्रेमियों को जोड़ने के लिए इन दिनों मुहिम चला रखी है, खासकर युवाओं को साहित्य व कला जगत से जोड़ने की दृष्टि से इस महोत्सव को संजोया जा रहा है।
 
मेवाड टॉक फेस्ट के संरक्षक शिक्षाविद् मदनमोहन टांक ने बताया कियह फेस्ट 30 मार्च को मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय के गोल्डन जुबली गेस्ट हाउस में प्रारंभ होगा। इसमें साहित्य जगत की दो नामचीन हस्तियों के व्याख्यान के साथ-साथ पुस्तक प्रदर्शनी और फिल्म की स्क्रीनिंग का आकर्षण रहेगा।    

11 प्रकाशकों की 1 हजार से ज्यादा पुस्तकों की प्रदर्शनी

मेवाड़ टाॅक फेस्ट के तहत युवाओं को स्तरीय पुस्तकों और साहित्य के प्रति अनुरागी बनाने के उद्देश्य से एक पुस्तक प्रदर्शनी का आयोजन भी किया जाएगा जिसमें इच्छुक व्यक्ति पुस्तकें खरीद भी सकेंगे। फेस्ट की समन्वयक रूचि श्रीमाली ने बताया कि इस पुस्तक प्रदर्शनी में 11 प्रकाशकों की 1 हजार से अधिक पुस्तकें प्रदर्शित की जाएंगी। इसके तहत विभिन्न विषयों यथा जीवनी, साहित्य, उपन्यास, धार्मिक, विज्ञान, इतिहास, कला-संस्कृति के साथ-साथ प्रेरणादायी पुस्तकों को प्रदर्शित किया जाएगा। श्रीमाली ने बताया कि प्रमुख रूप से गरूढ़ा, नेशनप्रेस, प्रभात, ब्लूम्सबरी, हार्परकाॅलिंस, हिन्दी साहित्य सदन आदि प्रकाशकों की पुस्तकों को स्थान दिया जाएगा।
 
यह रहेगा दो दिवसीय कार्यक्रम

मेवाड़ टॉक फेस्ट की समन्वयक रूचि श्रीमाली ने बताया कि दो दिवसीय इस फेस्ट में प्रथम दिवस दिनांक 30 मार्च को ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष एवं लेखिका रश्मि सामन्त का ‘ए हिंदू इन ऑक्सफोर्ड  विषय पर तथा लेखक एवं विचारक लक्ष्मी नारायण भाला “लक्खी दा’ का भारत के संविधान की जन्म कथा विषय पर वार्ता होगी। द्वितीय दिवस 31 मार्च को “बंगाल 1947“ फिल्म की स्क्रीनिंग होगी जिसमें दर्शक फिल्म के निदेशक और अभिनेता से चर्चा कर सकेंगे। इसके साथ ही आयोजन स्थल पर पुस्तकों की प्रदर्शनी भी लगेगी जिसमें पुस्तक प्रेमी पुस्तकों को खरीद सकेंगे।  

इस तरह से जुड़ सकते साहित्य प्रेमी

फेस्ट के मीडिया समन्वयक विकास छाजेड़ ने बताया कि इस महोत्सव से जुडने के लिए आयोजक टीम द्वारा एक क्यूआर कोड जारी किया गया है जिस पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है। आनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने वाले हर सदस्य को एक प्रमाण पत्र भी जारी किया जाएगा। उन्होंने शहर वासियों को इस फेस्ट में उपस्थिति और इसका लाभ उठाने का आह्वान भी किया।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal