उदयपुर बर्ड फेस्टिवल 9 जनवरी से

उदयपुर बर्ड फेस्टिवल 9 जनवरी से

उदयपुर बर्ड फेस्टिवल की तैयारियों की हुई समीक्षा
 
उदयपुर बर्ड फेस्टिवल 9 जनवरी से
अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का हो आयोजन, समन्वय से करें तैयारियां - आर.के.सिंह

उदयपुर, 10 दिसंबर 2019। मेवाड़-वागड़ की जैव विविधता से जन-जन को रूबरू करवाने और  लेकसिटी को बेस्ट बर्डवॉचिंग डेस्टिनेशन के रूप में स्थापित करने की दृष्टि से पिछले 6 वर्षों से आयोजित हो रहे उदयपुर बर्ड फेस्टिवल की तैयारियों को लेकर मंगलवार को वन भवन में तैयारी बैठक का आयोजन किया गया।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्य वन संरक्षक (वन्यजीव) आर.के.सिंह ने बर्ड फेस्टिवल से जुड़े समस्त अधिकारियों-कर्मचारियों को कहा कि पूर्व वर्षों की भांति अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का आयोजन हो तथा दिए गए दायित्वों का पूरी गंभीरता से निर्वहन किया जाए। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को समन्वय स्थापित करते हुए आगंतुक अतिथियों, बर्डवॉचर्स और विद्यार्थियों के लिए बेहतर व्यवस्थाएं करने के भी निर्देश दिए।

इस मौके पर मुख्य वन संरक्षक (उदयपुर संभाग) बी. प्रवीण ने चार दिवसीय आयोजनों के तहत वन विभाग के स्तर पर की जाने वाली तैयारियों के साथ बर्ड रेस के तहत बांसवाड़ा, डूंगरपुर, प्रतापगढ़, चित्तौड़गढ़ और राजसमंद के वन अधिकारियों द्वारा की जाने वाली तैयारियों की जानकारी देते हुए उनके स्तर पर व्यवस्थाएं करने को कहा।  

सेवानिवृत्त मुख्य वन संरक्षक राहुल भटनागर ने बर्डफेस्टिवल में आयोजित होने वाले नेचर लिटरेचर फेस्टिवल में अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त नेचर राईटर्स को आमंत्रित करने के साथ ही सरकारी विद्यालयों के अधिकाधिक विद्यार्थियों को इस फेस्टिवल का हिस्सा बनाने का आह्वान किया।  

बैठक दौरान उप वन संरक्षक अजित ऊंचोई ने उदयपुर बर्डफेस्टिवल के लिए अब तक की गई तैयारियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बर्ड फेस्टिवल के तहत प्रदर्शनी के आयोजन, आगंतुकों की आवास व्यवस्था, फोटो प्रतियोगिता, फोटो वर्कशॉप, बर्ड रेस व फिल्ड विजीट के लिए पंजीकरण की प्रगति, स्मारिका की तैयारियों पर विस्तार से प्रकाश डाला।  

बैठक में वन संरक्षक आर.के.खैरवा, सेवानिवृत्त उप वन संरक्षक सोहेल मजबूर व प्रतापसिंह चुण्डावत, डीएफओ अजय चित्तौड़ा व शैतानसिंह, जनसंपर्क उपनिदेशक डॉ. कमलेश शर्मा, एसीएफ चंद्रपालसिंह चुण्डावत, बर्ड एक्सपर्ट डॉ. विजय कोली, डॉ. पंकज सेन, डॉ. हेमंत जोशी, डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के अरूण सोनी,  डाक टिकट संग्रहकर्त्ता पुष्पा खमेसरा, डॉ. नदीम चिश्ती, वाईल्ड लाईफ फोटोग्राफर शरद अग्रवाल, पक्षीविद् प्रदीप सुखवाल, विनय दवे, विजेन्द्र परमार, उज्ज्वल दाधीच सहित बड़ी संख्या में पक्षीप्रेमी व वन विभागीय अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे।  

बर्ड फेस्टिवल में यह रहेंगे आकर्षण:

मुख्य वन संरक्षक (वन्यजीव) आर.के.सिंह ने बताया कि बर्ड फेस्टिवल के तहत 9 जनवरी को बर्ड रेस का आयोजन किया जाएगा, जिसमें बांसवाड़ा, डूंगरपुर, चित्तौड़गढ़, राजसमंद व प्रतापगढ़ से पक्षीप्रेमियों द्वारा भाग लिया जाएगा। 

बर्ड फेस्टिवल का औपचारिक उद्घाटन 10 जनवरी को जंगल सफारी पार्क में होगा जहां पर बर्ड, बटरफ्लाई व डाक टिकट की प्रदर्शनी आयोजित होगी। यहां पर 1 हजार से अधिक विद्यार्थियों व अतिथियों को बर्ड वॉचिंग करवाई जाएगी व डब्ल्यूडब्ल्यूएफ की तरफ से क्विज व पेंटिंग प्रतियोगिता आयोजित होगी। अपराह्न में ओटीसी सभागार में नेचर लिटरेचर फेस्टिवल का आयोजन आकर्षण का केन्द्र रहेगा। 

इसी प्रकार 11 जनवरी को संभागियों को उदयपुर व आसपास के पांच वेटलेण्ड्स पर बर्ड वॉचिंग करवाई जाएगी तथा 12 जनवरी को कार्यशाला व समापन समारोह का आयोजन होगा।  

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal