30 वाॅं खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह का समापन

30 वाॅं खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह का समापन 

खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह 2019-20 का समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन होटल जुस्ता राजपुताना रिसोर्ट उदयपुर मे किया गया। 
 
30 वाॅं खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह का समापन
इस सप्ताह में राजस्थान राज्य की 52 प्रधान खनिज की खानो ने भाग लिया।
 

भारतीय खान ब्यूरो, अजमेर के तत्वावधान में खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह 2019-20 का समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन होटल जुस्ता राजपुताना रिसोर्ट उदयपुर मे किया गया। यह सप्ताह दिनांक 05 जनवरी से 11 जनवरी 2020 तक आयोजित किया गया था। 

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में श्रीमती इन्द्रा रविन्द्रन, महानियंत्रक भारतीय खान ब्यूरा, नागपुर एवं सम्मानित अतिथि के रूप मे पकंज कुलश्रेष्ठ, खान नियंत्रक (उत्तराचंल) सम्मिलित हुए। इस वर्ष खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह की मेजबानी मेसर्स जिन्दल सा लिमिटेड, भीलवाडा द्वारा की गई। इस सप्ताह में राजस्थान राज्य की 52 प्रधान खनिज की खानो ने भाग लिया।

बी.एल. कोटडीवाला, क्षेत्रीय खान नियंत्र्रक, भारतीय खान ब्यूरो, अजमेर एवं संरक्षक, खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह ने खनन कम्पनियों से पधारे हुए कार्मिको का स्वागत किया। उन्होने सप्ताह की महत्ता के बारे में जानकारी दी एवं खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह के विगत तीस वर्षो की यात्रा की चर्चा की।

पकंज कुलश्रेष्ठ, खान नियंत्रक (उत्तराचंल) ने भी खान मालिकों एवं खनन कंपनियों में सामुदायिक विकास तथा सुनियोजित विकास एवं श्रेष्ठ खनन संक्रियाओं के प्रति जागरूकता पैदा करने बारे मे जारकारी दी। एवं खानों मे उत्पादन को बढ़ा कर खनन क्षेत्र के द्वारा जी डी पी मे योगदान को बढाने पर चर्चा की। भारतीय खान ब्यूरो द्वारा खानो के संधारणीय विकास हेतु स्टार रेटिगं के बारे मे बताया।

श्रीमती ईन्दिरा रविन्द्रन, महानियंत्रक, भारतीय खान ब्यूरो ने खान पर्यावरण की महत्ता के बारे में जानकारी दी एवं साथ ही भारतीय खान ब्यूरो की खनन क्षेत्र की पोलिसी निर्धारण में योगदान एवं खनिज सरंक्षण मे योगदान के बारे मे बताया साथ ही उन्होने बताया की खानों मे उत्पादन बढाने के साथ-साथ पर्यावरण सरंक्षण एवं आस पास के क्षेत्र का सामुदायिक विकास पर ध्यान देने की आवश्यकता बताई। 

उन्होंने नेशनल मिनरल पोलिसी 2019 एवं भारत सरकार द्वारा एमएमडीआर एक्ट मे हाल ही कीये गये संशोधनों एवं उसके अन्तर्गत नये नियमो के बारे में अवगत कराया। महोदया ने निम्न श्रेणी के खनिजो के उपयोग पर बल दिया ताकि आने वाली पीढ़ियों के बाबत खनिज संपदा विरासत मे छोड सके। भारतीय खान ब्यूरो द्वारा विकसीत किये जा रहे माइनिगं टेनामेंट सिस्टम (एमटीएस) के बारे मे जानकारी दी गई। 

अन्त मे मुख्य अतिथि महोदया द्वारा विभिन्न खानों को खनन गतिविधि कि अलग अलग क्षेत्रो मे किये गये सर्वश्रेष्ठ कार्यो हेतु पुरस्कार वितरण किया गया। कार्यक्रम को मेसर्स जिन्दल सा लिमिटेड़ के ईकाइ प्रधान धर्मेद्र गुप्ता एवं माईनिगं हैड सुनिल पांडे ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम के दौरान आगामी वर्ष 2020-21 के आयोजन हेतु मेसर्स बिरला सिमेंट वर्क्स के इकाई प्रधान राजेश कक्कड़ को खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह का ध्वज सौंपा गया। 

अन्त में खान पर्यावरण एवं खनिज संरक्षण सप्ताह के सचिव दिनेश पाटिल द्वारा धन्यवाद ज्ञापित किया गया। कार्यक्रम के दोरान खान सुरक्षा उप महानिदेशक मनीष मुरकुटे, एवं भारतीय खान ब्यूरो के अधिकारीयो ने भी भाग लिया कार्यक्रम के दौरान विभिन्न खानों के खनन अभियंताओं, खनन भुविज्ञानिको, खनन प्रबधंको, खान एजेटों एवं खनन पटटा धारको ने भाग लिया
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal