सज्जनगढ़ अभयारण्य में मनाया 71 वां जिला स्तरीय वन महोत्सव

सज्जनगढ़ अभयारण्य में मनाया 71 वां जिला स्तरीय वन महोत्सव
 

जैव विविधता से समृद्ध दक्षिण राजस्थान को हरा-भरा बनाने का लिया संकल्प
 
 
सज्जनगढ़ अभयारण्य में मनाया 71 वां जिला स्तरीय वन महोत्सव
अंचल में ग्रीन कवर बढ़ाने के लिए प्रशासन कृत संकल्पित: देवड़ा
 

उदयपुर, 17 जुलाई 2020। जिला प्रशासन एवं वन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में 71 वां जिला स्तरीय वन महोत्सव कार्यक्रम शुक्रवार को सज्जनगढ़ वन्यजीव अभयारण्य परिसर में समारोहपूर्वक आयोजित किया गया। मौजूद अतिथियों के साथ प्रबुद्धजनों ने इस मौके पर पौधरोपण के साथ ही जैव विविधता से समृद्ध दक्षिण राजस्थान को हरा-भरा बनाने के लिए संकल्प भी लिया।

अभियान रूप में विलायती बबूल का हो उन्मूलन: जोशी

समारोह को संबोधित करते हुए मावली विधायक धर्मनारायण जोशी ने कहा कि पर्यावरणीय विषयों से समृद्ध होने के कारण हमारी संस्कृति पूरे विश्व को संदेश देती है, ऐसे में हमें भी पर्यावरण संरक्षित रखने का प्रयास करना चाहिए। उन्होंने जिले में विलायती बबूल के उन्मूलन के लिए वर्ष भर में किसी एक पंचायत में इसके अभियान रूप में कार्य करने तथा बड़े औद्योगिक संस्थानों के सीएसआर मद से जिले में पौधरोपण व उसके संरक्षण के प्रयास करने का सुझाव दिया।

अंचल में ग्रीन कवर बढ़ाने के लिए प्रशासन कृत संकल्पित: देवड़ा

कार्यक्रम में अपने संबोधन में जिला कलक्टर चेतन देवड़ा ने कहा कि दक्षिण राजस्थान में बारिश अच्छी होती है और जैव विविधता भी है ऐसे में अधिकाधिक पौधरोपण व इसके संरक्षण के माध्यम से ग्रीन कवर के बढ़ाने के लिए प्रशासन कृत संकल्पित है। उन्होंने लेंटाना को वन का दुश्मन बताया और आह्वान किया कि इसको उखाड़ फैंकते हुए वन व वन्यजीवों को बचाने की अत्यधिक आवश्यकता है। कलक्टर ने कोरोना महामारी के बीच सोशल डिस्टेंसिंग के माध्यम से सफल वन महोत्सव कार्यक्रम आयोजन के लिए वन विभागीय प्रयासों की सराहना भी की।

पौधरोपण कर लिया संरक्षण का संकल्प

समारोह में विधायक धर्मनारायण जोशी, कलक्टर चेतन देवड़ा के साथ ही मुख्य वन संरक्षक बी. प्रवीण, मुख्य वन संरक्षक (वन्यजीव) आर.के.सिंह, सेवानिवृत्त मुख्य वन संरक्षक राहुल भटनागर, वन संरक्षक आर.के.खैरवा व आर.के.जैन, जिला परिषद सीईओ डॉ. मंजू, देश के ख्यातनाम पर्यावरण वैज्ञानिक डॉ. सतीश शर्मा, एसीईओ आर.के.अग्रवाल, उप वन संरक्षक अजीत ऊंचोई, अजय चित्तौड़ा सहित वन विभागीय अधिकारियों व कार्मिकों के साथ कई प्रबुद्धजनों ने अभयारण्य परिसर में पौधरोपण किया और पौधों का सींचन कर इनके संरक्षण का संकल्प लिया।

तुलसी पौध देकर स्वागत

समारोह में मौजूद समस्त अतिथियों का विभागीय अधिकारियों ने तुलसी पौध देकर स्वागत किया। समारोह में वन संरक्षक आर.के.खैरवा ने जिले में ईको ट्यूरिज़्म में हुए प्रयासों की जानकारी देते हुए कहा कि उदयपुर ने सज्जनगढ़ बायोलॉजि़कल पार्क के साथ चीरवा घाटे में फूलों की घाटी के विकास के माध्यम से देशभर में अपनी पहचान बनाई है। समारोह में स्वागत उद्बोधन उप वन संरक्षक अजय चित्तौड़ा ने दिया। कार्यक्रम का संचालन सहायक वन संरक्षक डी.के.तिवारी ने किया जबकि आभार प्रदर्शन की रस्म उप वन संरक्षक अजीत ऊंचोई ने अदा की। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal