सावन के अंतिम सोमवार को धूमधाम के साथ निकलेगी भगवान महाकाल की शाही सवारी


सावन के अंतिम सोमवार को धूमधाम के साथ निकलेगी भगवान महाकाल की शाही सवारी

शाही सवारी के स्वरूप झांकिया व्यवस्थाओं में सुगम मार्ग व्यवस्था

 
mahakal
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर सार्वजनिक प्रन्यास मन्दिर श्री महाकालेश्वर उदयपुर के अध्यक्ष तेज सिंह सरूपरिया के सानिध्य में सर्व समाज व सर्भी धार्मिक संगठनों और शिवभक्तो की बैठक श्रावण के अंतिम सोमवार पर भगवान आशुतोष श्री महाकाल की शाही सवारी के नगर भ्रमण के संबध में सम्पन हुई।

जिसमें आगामी 8 अगस्त 2022 को भगवान श्री महाकाल की शाही सवारी के नगर भ्रमण के सम्बंध में व्यापक रूपरेखा प्रस्तुत कि गई जिसमें शाही सवारी के स्वरूप झांकिया व्यवस्थाओं में सुगम मार्ग व्यवस्था तथा विभिन्न समाजो और संगठनों के द्वारा शिवभक्तों के स्वागत में लगाए जाने वाले स्वागत द्वार, स्टाॅल, मार्ग में बैनर पोस्टर, पत्ताकाए, इत्यादी को विभिन्न मार्ग पर लगाए जाने एवं शाही सवारी को परम्परागत प्रथा के अनुसार भव्य रूप से निकाले जाने का निर्णय लिया गया।

बैठक में सचिव चन्द्र शेखर दाधीच ने व्यवस्थाओं व ट्रस्ट के द्वारा प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी जो झांकिया निकाली जायेगी उनके सम्बंध में विस्तृत रूप से जानकारी देकर बताया कि 8 अगस्त को अभिजित मौर्हुत में भगवान श्री महाकालेश्वर की शाही सवारी श्री महाकालेश्वर मन्दिर से होते हुए काला किवाड, चेटक, हाथीपोल, मोती चैहट्टा, घण्टाघर, जगदीश चैक, जाडा गणेश जी, अम्बामाता होते हुए पुनः महाकालेश्वर मन्दिर पहुंचेगी। तत्उपरान्त महाआरती का आयोजन होगा। इस द्वौरान शाही सवारी के मार्ग के बीच में शिक्षा भवन चैराया, चेटक, हाथीपोल, मोती चैहट्टा, घण्टाघर, जगदीश चैक, जाडा गणेश जी, अम्बामाता मन्दिर पर महाकाल की शाही सवारी का भव्य आरती का आयोजन होगा।

बैठक मे बी एस कानावत, उपमहापौर पारस सिंधवी, के. के. शर्मा, कमलेन्द्र सिंह पंवार, दिशा भार्गव, राजेन्द्र श्रीमाली, युधिष्ठर कुमावत, सुनील भट्ट, दिनेश श्रीमाली, नटवर लाल शर्मा तथा कार्यक्रम के संयोजक एडवोकेट सुन्दर लाल माण्डावत, रमाकान्त अजारिया, क्षैत्रिय पार्षद शंकर चंदेल, लोकेश कोठारी ने अपने विचार प्रकट किये।
 
प्रवक्ता विनोद कुमार, एडवोकट महिपाल शर्मा ने बताया कि सभी समाज जिसमें क्षत्रिय समाज, श्रीमाली, शाकद्वीपिय, गुर्जरगौड, दाधीच, जैन, सुथार, आमेटा, खटीक, सिख, सोनी, भील, लौहार, सेन इत्यादी समाजो के प्रतिनिधीयों के साथ ही धर्मोत्सव समिति, रथ समिति, कावड यात्रा समिति, बजरंग दल, मेवाड क्षत्रिय महासभा, जगन्नाथ रथ समिति सेक्टर -7, विप्र फाउन्डेशन, सहित विभिन्न समाज व संगठनों ने पुर्णरूप से शाही सवारी को भव्य रूप से निकालने के लिए संकल्प लेकर तन, मन, धन से शाही सवारी निकालने का निर्णय किया। जिसमें श्रीमाली समाज की ओर से गौ-मुत्र का छिडकाव किया जायेगा, खटीक समाज की और से बुलट मोटर साईकिल पर परम्परागत पौशाक पहनकर यात्रा में साथ चलेगें।

भील समाज के अमृत भगोरा ने बताया कि भील परम्परागत थाली -मांदल व वाध्य यन्त्र के साथ गवरी नृत्य प्रस्तुत करते हुए सवारी के साथ चलेंगे। जिसमें भगवान आशुतोष को प्रिय गवरी नृत्य व नाटिकाॅए प्रस्तुत करते हुए साथ- साथ में चलेगें। साथ ही आमेटा समाज की और से सैकडो संख्या में महिलाएॅ लेहरिया पहन कर मंगल कलश के साथ मंगल गीत गाते हुए साथ चलेगी।


आज की बैठक में दिनेश गुप्ता, भरत जोशी, भुपेन्द्र चैहान, कमल बाबेल, शेषमल सोनी, गोपाल लौहार, लोकेश मेहता, अनिल चैधरी, चन्द्रवीर सिंह राठौड, दिनेश मेहता, भरत छाजेड, यतिन्द्र दाधिच, नागेन्द्र शर्मा, योगेश गिरी गोस्वामी, सुनिल शर्मा, राधेश्याम दाधिच, चत्रभुर्ज आमेटा, पुर्व पार्षद रमेश सोनी, शंकर कुमावत, पुरूषोतम जिंगर, कमल चैहान, अजय सेठी, हरिश शर्मा लक्षित लौहार सहित विभिन्न सर्व समाजों व संगठनों के पदाधिकारी उपस्थित थे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal